महाशिवरात्रि पर महाकाल मंदिर में दर्शन कैसे मिलेंगे, यहां पढ़िए - Mahashivratri Mahakal darshan guide

Mahashivratri Mahakal- महाशिवरात्रि के अवसर पर हर शिव भक्त चाहता है कि उसे मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्थित पवित्र ज्योतिर्लिंग श्री महाकालेश्वर के दर्शन हो जाए, इसी कारण महाकाल मंदिर में इतनी भीड़ हो जाती है कि संभालना मुश्किल हो जाता है। पिछले 2 सालों से कोरोना प्रतिबंधों के कारण संख्या ज्यादा नहीं आई थी परंतु इस बार श्रद्धालुओं की संख्या मंदिर मैनेजमेंट के लिए एक बड़ा चैलेंज है। 

महाकालेश्वर मंदिर में महाशिवरात्रि पर दर्शन का मास्टर प्लान

सभी श्रद्धालुओं को दर्शन मिल पाए इसके लिए उज्जैन के कलेक्टर ने एक मास्टर प्लान तैयार किया है। तीन अलग-अलग लेयर में दर्शन कराए जाएंगे। पहली लेयर आम भक्तों की होगी। दूसरा प्रोटोकॉल मार्ग और तीसरा हरि फाटक से एंट्री दी जाएगी। इस तरह कोशिश की जा रही है कि वीआईपी एंट्री के कारण आम नागरिकों के दर्शन प्रभावित ना हो। उल्लेख करना प्रासंगिक होगा कि ऐसे अवसरों पर इंदौर के भाजपा नेता और खासकर कैलाश विजयवर्गीय, कुछ समय के लिए गर्भ ग्रह पर एक प्रकार से कब्जा कर लेते हैं।

महाशिवरात्रि 2022- उज्जैन में कितने श्रद्धालु आएंगे

कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि महाशिवरात्रि पर डेढ़ लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है। इंदौर, देवास, नागदा और बड़नगर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कर्क राज मंदिर में पार्किंग रखी गई है। यहां से श्रद्धालु पैदल गंगा गार्डन तक पहुंचेंगे। यहां जूता स्टैंड और लॉकर फैसिलिटी मिलेगी। पास ही के रास्ते से चारधाम मंदिर तक श्रद्धालु पहुंच सकेंगे।

दर्शन के बाद प्रवचन हॉल के पास बने निर्गम द्वार से बाहर जाएंगे। तीन बैरिकेडिंग से श्रद्धालुओं को प्रवेश मिलेगा। दो बैरिकेडिंग आम श्रद्धालु के लिए और तीसरी बैरिकेडिंग 250 रुपए की रसीद लेने वालों के लिए होगा। श्रद्धालुओं को एक घंटे तक लाइन में रहना होगा। मंदिर समिति ने श्रद्धालुओं के लिए पानी की बोतल की व्यवस्था की है।

श्रद्धालु कृपया नोट करें- पार्किंग से गंगा गार्डन तक फ्री ई-रिक्शा

श्रद्धालुओं को ज्यादा पैदल न चलना पड़े, इसके लिए पार्किंग से लेकर गंगा गार्डन तक निशुल्क ई-रिक्शा की सुविधा रहेगी। महाकाल मंदिर के सहायक प्रशासक ने बताया कि दिव्यांग और बुजुर्गों को प्राथमिकता दी जाएगी। सरफेस पार्किंग और हरि फाटक ब्रिज के पास से भी यह सुविधा मिलेगी।

700 से ज्यादा होटल तैयार, किराया 700 से 1000

श्रद्धालुओं के लिए 700 से अधिक होटल तैयार हैं। मंदिर के आसपास करीब 400 छोटे-बड़े होटल कारोबारियों ने भी तैयारी कर ली है। होटल कारोबारी मोनू सिसौदिया ने बताया कि मंदिर के आसपास होटल में 5 बड़ी होटल को छोड़ दिया जाए, तो सभी होटल के डबल बेड कमरों का किराया 700 रुपए से लेकर एक हजार रुपए के बीच है। कई होटल में एडवांस बुकिंग हो चुकी है।

VIP और प्रोटोकॉल व्यवस्था

महाशिवरात्रि पर कई VIP भी आएंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उनकी पत्नी साधना सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती समेत बड़े नेता यहां पहुंचेंगे। इनकी गाड़ी प्रशासक कार्यालय के पास बने VIP पार्किंग पर पार्क होगी। इसके बाद VIP कंट्रोल रूम होते हुए नंदी मंडपम पहुचेंगे।

श्रद्धालुओं के लिए शीघ्र दर्शन की भी व्यवस्था

मंदिर समिति द्वारा 250 रुपए का टिकट लेकर श्रद्धालु शीघ्र दर्शन का लाभ ले सकेंगे। चारधाम मंदिर से बड़ा गणेश मंदिर तक रसीद के लिए अलग-अलग जगह काउंटर बनाए जा रहे हैं। शीघ्र दर्शन की लाइन भी चारधाम मंदिर से शुरू होगी। इसका टिकट भी वहीं से मिलेगा, जिसके बाद बैरिकेडिंग से होते हुए श्रद्धालु मंदिर के अंदर पहुंचेंगे।

उज्जैन महाकालेश्वर मंदिर- महाशिवरात्रि पर पार्किंग कहां मिलेगी

मंदिर समिति ने चार जगह पार्किंग व्यवस्था की है। पहली पार्किंग कर्क राज मंदिर के पास बनी है। इसके भरने के बाद त्रिवेणी संग्रहालय के पास बनी नई पार्किंग और कार्तिक मेला ग्राउंड की पार्किंग सहित हरि फाटक ब्रिज के पास बनी पार्किंग का उपयोग किया जा सकेगा। रेलवे स्टेशन और बस स्टैण्ड पर उतरने वाले श्रद्धालु मैजिक वाहन और ई-रिक्शा से चारधाम के पास तक जा सकेंगे।

महाकालेश्वर मंदिर- शिवरात्रि पर सुरक्षा व्यवस्था 

श्रद्धालुओं की सुरक्षा में 1200 पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। इसमें चार एडिशनल SP, DSP, CSP, TI सहित अन्य पुलिसकर्मी शामिल हैं। SP सत्येंद्र शुक्ल ने बताया कि श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए चप्पे-चप्पे पर CCTV से नजर रखी जाएगी। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.