लड़कियों का फिगर ताड़ने का लालच: 10 दिन में 200 शिकार, शिवपुरी के चार लड़के गिरफ्तार- INDORE NEWS

किसी लड़की का भड़काउ फोटो देखकर मर्यादा पार करने वाले इन दिनों तेजी से ब्लैकमेलिंग का शिकार बनाए जा रहे हैं। मात्र 10 दिन में 200 लोगों को लूट लिया गया। वह तो अच्छा हुआ किसी ने पुलिस को सूचना दे दी और चारों पकड़े गए नहीं तो एक दिन में 100 दिन में 10 हजार लोग ठगी का शिकार हो चुके होतै। पकड़े गए चारों युवक शिवपुरी के रहने वाले हैं। 

लोगों को ब्लैकमेल करने शिवपुरी से इंदौर आए थे

टीआई तहजीब काजी ने बताया कि हमें दो दिन पहले इमेल पर शिकायत मिली थी। बताया गया था कि स्कीम-54 के एक फ्लैट में चार युवक लोगों को ब्लैकमेल करने का काम कर रहे हैं। वर्क फ्रॉम होम के नाम पर फ्लैट किराए पर लिया गया था। पुलिस ने इस शिकायत के आधार पर बुधवार को छापा मारा। इस दौरान पुलिस ने फ्लैट से चार आरोपियों मोनू राठौर, संदीप शर्मा, अमन जाट, सचिन धाकड़ को मौके से गिरफ्तार कर लिया है। चारों के पास के बड़ी संख्या में आपत्तिजनक वीडियो मिले हैं। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि 10 दिनों में ही 200 से अधिक लोगों को ब्लेकमेल कर लाखों रुपए वसूल चुके हैं।

ऐसे बनाते थे शिकार
चारों आरोपी पहले सोशल मीडिया पर प्रोफाइल चेक करते थे। वे लड़कों की प्रोफाइल पर जाकर उसकी उम्र, रूचि, पसंद-नापसंद की जानकरी जुटाते। इसके बाद उसे फर्जी लड़की का फोटो लगाकर एक फेक आईडी से फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते। लड़के जैसे ही फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट करते ये चारों उससे अश्लील चैटिंग शुरू कर देते थे। लड़कों को न्यूड करवाकर उसकी स्क्रीन रिकॉर्डिंग के जरिये मोबाइल पर रिकॉर्डिंग कर लेते थे।

वसूली के लिए बन जाते फर्जी पुलिस अधिकारी, FIR की धमकी देते थे

टीआइ तहजीब काजी पूछताछ ने बताया कि स्क्रीन रिकॉर्डर से रिकॉड हुए वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर ब्लेकमेल करते थे। रुपये देने से इन्कार करने पर वे फर्जी पुलिस अफसर बनकर अलग-अलग नंबरों से फोन लगाते थे। ये सभी लड़कों को FIR दर्ज कराने की धमकी देते थे। तब वे डर कर चारों आरोपियों के खाते में पैसे जमा करा देते थे। पुलिस अब इन सभी के मोबाइल और बैंक खातों की जांच कर रही है। इंदौर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया indore news पर क्लिक करें.