INDORE HISTORY- महाराजा शिवाजी राव के महल को लालबाग महल क्यों कहते हैं, पढ़िए - dharti-Ke-Rang

इंदौर के सबसे लोकप्रिय और प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों में से एक है लालबाग महल। नाम से लगता है कि यह महल मुगलों ने बनवाया होगा लेकिन इसका निर्माण महाराजा शिवाजी राव होलकर द्वारा करवाया गया था। आइए जानते हैं कि महाराजा शिवाजी राव के 3 मंजिला शानदार महल को, लालबाग महल क्यों कहते हैं।

इंदौर के लाल बाग पैलेस की कहानी 

खान नदी के किनारे शान से खड़ा 3 मंजिला लाल बाग पैलेस केवल इतिहास की किताब नहीं है बल्कि स्कूल और कॉलेज के स्टूडेंट्स को सीखने के लिए काफी कुछ है। यह महल इंस्पायर करता है, मोटिवेट करता है, बताता है कि कुछ ऐसा कीजिए जिसे दुनिया याद रखे। बताया जाता है कि महाराजा शिवाजी राव होलकर ने इस महल को अपने मेहमानों के लिए बनाया था। यानी यह महल इंदौर के राजपरिवार का गेस्ट हाउस था।

इस महल को देखकर इतिहास के विद्यार्थी अनुमान लगा सकते हैं कि होलकर राजपरिवार की जीवन शैली कैसी थी। इस महल में गुलाबों का एक शानदार बगीचा है। दावा किया जाता है कि यहां भारत के सबसे सुंदर और दुर्लभ प्रजाति के गुलाब मिलते हैं। लाल गुलाबों से भरे इस बगीचे के कारण ही पूरे पैलेस का नाम लाल बाग पैलेस तय किया गया। 

28 एकड़ में फैले इस महल को एक संग्रहालय में परिवर्तित कर दिया गया है। यहां से पुराने सिक्कों का शानदार संग्रहण देखने को मिलता है। इसके माध्यम से पता चलता है कि लोकतंत्र से पहले राजाओं द्वारा किस प्रकार की मुद्राओं का संचालन किया जाता था।

धरती के रंग- के तहत दुनियाभर के विशेष स्थानों के बारे में रोचक जानकारी प्रस्तुत की जाती है। यदि आपके पास भी ऐसा कुछ है जिसके बारे में सभी को पता होना चाहिए, तो कृपया हमें इस पते पर ईमेल करें। लेखक कृपया अपना संक्षिप्त परिचय, स्थान का बड़ा फोटो संलग्न करें। editorbhopalsamachar@gmail.com