MP NEWS- पुलिस ने माना नशे में जीप नहीं, टीआई थे, FIR दर्ज

भोपाल।
मध्य प्रदेश के खंडवा जिले के पंधाना में टीआई अंतिम पंवार के खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई है। टीआई ने दावा किया था कि जीप अपने आप लहरा रही थी लेकिन एसपी सिद्धार्थ चौधरी ने बताया कि प्राइमरी इन्वेस्टिगेशन में टीआई अंतिम पवार नशे में पाए गए हैं। उनके खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई है एवं डिपार्टमेंट की तरफ से भी कार्रवाई की जाएगी।

घटना के दूसरे दिन एसपी सिद्धार्थ चौधरी ने पत्रकारों को बताया की टीआई के खिलाफ प्रकरण दर्ज कराया गया है। मेडिकल भी कराया गया है। शराब पीने की पुष्टि भी हो रही है। विभागीय कार्रवाई भी टीआई के खिलाफ की जाएगी। इससे पहले TI ने दावा किया था कि वह नशे में नहीं थे बल्कि जीप अपने आप लहरा रही थी। जीप से शराब की बोतल और चखना बरामद हुआ है। पब्लिक ने टीआई को पकड़कर पुलिस के हवाले किया था।

मामला क्या है 
पब्लिक, इंस्पेक्टर अंतिम पवार को पकड़कर थाने ले आई थी। भीड़ ने भीकनगांव थाने का घेराव कर दिया था। लोगों का कहना था कि टीआई ने नशे की हालत में जीप चलाते हुए कई वाहनों में टक्कर मारी और दो युवकों को घायल कर दिया। प्रदर्शन के दौरान थाने में मौजूद पुलिस कर्मचारियों ने अपने अधिकारी इंस्पेक्टर अंतिम पवार के आदेश पर प्रदर्शनकारियों पर बल प्रयोग भी किया था लेकिन मामला शांत नहीं हुआ। शुरुआत में मामले को दबाने की कोशिश की गई परंतु जब पब्लिक का आक्रोश बढ़ता चला गया तो इंस्पेक्टर अंतिम पवार का मेडिकल कराया गया और उसके बाद FIR दर्ज कर ली गई।

प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि टीआई के वाहन से सबसे पहले निमाड़ जिनिंग के सामने बाइक सवार जयदीप देशमुख और राहुल देशमुख को टक्कर मारी। उसके बाद छोटे चौराहे पर लक्की मंडलौई को हल्की टक्कर लगी। बडे़ चौराहे पर दो तीन लोग बाल-बाल बच गए। टीआई का वाहन तेज रफ्तार से अनियंत्रित होकर चल रहा था। गुस्साए लोगों ने सांईखेड़ा के पास वाहन को पकड़ा और थाने लेकर आए। टीआई के वाहन में शराब की बोतल भी मिली। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP NEWS पर क्लिक करें.