MP NEWS- सीएम शिवराज सिंह के आदेश से अचानक बेरोजगार हो गए 1827 चयनित उम्मीदवार

भोपाल
। मध्यप्रदेश में सरकारी नौकरी के अवसर कम किए जा रहे हैं। शासकीय उचित मूल्य की दुकान पर लोगों को राशन वितरण के लिए 1827 चयनित कनिष्ठ संविदा विक्रेताओं की नियुक्ति प्रक्रिया एंड टाइम पर रोक दी गई। सहकारिता विभाग द्वारा बुधवार को अचानक आदेश जारी कर दिए गए। पता चला है कि कनिष्ठ संविदा विक्रेता का पद समाप्त किया जा रहा है। भविष्य में कभी इस पद पर कोई नियुक्ति नहीं होगी।

मध्य प्रदेश सहकारिता विभाग ने अचानक नियुक्ति प्रक्रिया रोकने के आदेश जारी किए

सहकारिता विभाग ने कनिष्ठ संविदा विक्रेता के 3626 पद स्वीकृत किए थे। भर्ती हेतु विज्ञापन जारी किया गया था। एमपी आनलाइन के माध्यम से चयन प्रक्रिया कराई गई। इसमें 45 हजार से ज्यादा अभ्यर्थियों ने भाग लिया था। डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद 1799 उम्मीदवारों की नियुक्ति हो चुकी है जबकि शेष 1827 उम्मीदवारों को नियुक्ति की प्रक्रिया लगातार जारी थी कि तभी बुधवार को सहकारिता विभाग ने अचानक नियुक्ति प्रक्रिया को रोकने के आदेश जारी कर दिए। 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने व्यवस्था ही बदल दी 

बताया गया है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शासकीय उचित मूल्य की दुकानों पर राशन के वितरण की व्यवस्था ही बदल दी है। पहले राशन का वितरण विक्रेताओं के द्वारा किया जाता था परंतु अब स्व सहायता समूह के द्वारा किया जाएगा। इसके लिए नियमों में परिवर्तन किया जा रहा है। सामान्यतः ऐसी स्थिति में आगामी भर्ती प्रक्रिया को रद्द कर दिया जाता है परंतु मध्यप्रदेश में भर्ती प्रक्रिया के अंतिम चरण में अचानक नियुक्ति को रोक दिया गया। 1827 उम्मीदवार, कल तक सरकारी कर्मचारी बनने वाले थे आज बेरोजगार हो गए। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.