ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे ने राजनीति वाला कुर्ता पहनकर तलवार से केक काटा - GWALIOR NEWS

ग्वालियर
। अपने 26वें जन्म दिवस के अवसर पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे महा आर्यमन सिंधिया राजनीति में सक्रिय हो गए हैं। 1 दिन पहले तक यंगस्टर्स की तरह दिखाई देने वाले महा आर्यमन सिंधिया अपने जन्मदिन के अवसर पर 100% नेता नजर आए। उन्होंने अपने पिता की तरह राजनीति वाला कुर्ता पहना और तलवार से केक काटा। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे महा आर्यमन सिंधिया की राजनीति में एंट्री को लेकर खबरें लगातार चल रही हैं। शुरुआत में इसे पॉलिटिकल गॉसिप माना गया फिर कहा गया कि ज्योतिराज सिंधिया अपने बेटे को राजनीति की प्राइमरी पढ़ा रहे हैं लेकिन 26वें जन्म दिवस के अवसर पर जो कुछ भी हुआ, यह दावा करने के लिए पर्याप्त है कि महा आर्यमन सिंधिया राजनीति में सक्रिय हो चुके हैं। संभव है 2023 का विधानसभा चुनाव लड़े।

महा आर्यमन सिंधिया किस सीट से चुनाव लड़ेंगे 

फिलहाल कयास लगाए जा रहे हैं कि महा आर्यमन सिंधिया 2023 का विधानसभा चुनाव लड़ेंगे और यदि ऐसा हुआ तो जीते ही मंत्री भी बनेंगे। सवाल यह है कि युवराज किस विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। लड़ने के लिए उनके पास कई ऑप्शन है परंतु सिंधिया राजपरिवार का फोकस वह सीट रहेगी जहां से रिकॉर्ड मतों से जीत प्राप्त की जा सके। इस प्रकार की सीट शिवपुरी और अशोकनगर जिले में हो सकती है। ग्वालियर की किसी भी विधानसभा से चुनाव लड़ने का जोखिम सिंधिया परिवार शायद नहीं उठाएगा।

पुत्रों की पॉलिटिक्स पर भाजपा की पॉलिसी क्या होगी

मध्य प्रदेश की राजनीति में खासकर भारतीय जनता पार्टी में 2023 का विधानसभा चुनाव पुत्रों की पॉलिटिकल पदस्थापना के लिए जाना जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से लेकर करीब 50 से ज्यादा दिग्गज नेताओं के नाम है, जिनके बच्चे राजनीति में सक्रिय हो चुके हैं और टिकट का इंतजार कर रहे हैं। 2018 के चुनाव में कैलाश विजयवर्गीय को अपने बेटे आकाश विजयवर्गीय के लिए अपनी सीट छोड़नी पड़ी थी। 2023 के विधानसभा चुनाव में भाजपा की पॉलिसी क्या होगी, यह सबसे रोचक प्रश्न है। ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें.


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here