Loading...    
   


MP BOARD EXAM: बैक टू बैक पेपर रख दिए, रिवीजन का भी टाइम नहीं मिला - HINDI NEWS

भोपाल
। कोरोनावायरस के संक्रमण के चलते माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्यप्रदेश ने 10वीं हाई स्कूल एवं 12वीं हाई सेकेंडरी स्कूल की परीक्षाएं देरी से शुरू करवाई लेकिन रिजल्ट जल्दी जाने के चक्कर में बैक टू बैक पेपर रख दिए। स्टूडेंट्स को रिवीजन करने का भी टाइम नहीं मिलेगा। 

एमपी बोर्ड परीक्षाएँ 18 दिनों के भीतर खत्म हो जाएँगी। इसकी वजह हर पेपर में सिर्फ 1 या 2 दिनों का गैप मिलना है। इस बार 12वीं की परीक्षा में केवल वाणिज्य संकाय के विषयों और 10वीं में प्रायोगिक विषयों को छोड़कर शेष विषयों में नियमित एवं स्वाध्यायी विद्यार्थियों के लिए प्रश्न पत्र 100 अंकों का होगा, लेकिन नियमित विद्यार्थियों के लिए 100 अंकों के प्राप्तांक का 80 फीसदी अधिभार होगा। वहीं 20 अंकों का प्रोजेक्ट वर्क होगा। 

दूसरी ओर स्वाध्यायी (प्राइवेट) विद्यार्थियों के लिए 100 अंकों के प्राप्तांक अंकसूची में प्रदर्शित किए जाएँगे। माध्यमिक शिक्षा मंडल, भोपाल के सूत्रों का कहना है कि परीक्षाओं के परिणाम भी माशिमं जल्द घोषित करने की योजना बना रहा है। यही कारण है कि बोर्ड पेपरों के बीच ज्यादा ज्ञात नहीं दिया है।

01 फरवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here