Loading...    
   


INDORE 150 की स्पीड पर कार पलटी, LLB स्टूडेंट की मौत, दो घायल - MP NEWS

इंदौर।
नाइट कर्फ्यू के कारण सुनसान सड़कों पर रात 12:00 बजे के बाद एक कार करीब 150 की स्पीड पर दौड़ती हुई नजर आई। गीता भवन चौराहे के पास स्पीड ब्रेकर से कार्निज्म पुलिया और करीब 50 मीटर तक BRTS रेलिंग को तोड़ते हुए कार पलट गई। कार चला रहा एलएलबी स्टूडेंट बिट्टू सप्लायर स्टेरिंग में फंस गया, उसकी दर्दनाक मृत्यु हो गई। उसके साथ मौजूद दो दोस्त घायल हुए जिसमें से एक गंभीर है।

पुलिस के अनुसार मृतक का नाम ईश्वर उर्फ बिट्टू सांखला निवासी राजवाड़ा है। बिट्टू अपने जिम के दो दोस्त गोकुल राठौर निवासी राजनगर औऱ अश्विन सिंह निवासी स्कीम नंबर 51 के साथ कार से निकला। गीता भवन की ओर जा रहे थे। कार बिट्टू चला रहा था। नाइट कर्फ्यू के कारण BRTS पर सन्नाटा पसरा था। इसी को देखते हुए बिट्टू ने कार को iBUS लेन में दौड़ा दी और स्पीड वाले कांटे को 150 के पास पहुंचा दिया। वह साइड में चल रही एक दूसरी कार को ओवर टेक कर रहा था। गीताभवन चौराहे के पहले गति अवरोध के कारण तेजी से दौड़ रही कार उछल गई। कार के उछलते ही बिट्टू के हाथ से बैलेंस भी छूट गया और करीब 50 फीट तक BRTS की रेलिंग को तोड़कर कार दूसरे लेन में पहुंच कर पलट गई।

एक्सीडेंट की आवाज सुन वहां से गुजर रहे इक्का-दुक्का लोग कार की ओर दौड़े। कार का अगल हिस्सा बुरी तरह से पिचका हुआ था। बॉडी के परखच्चे उड़ चुके थे। पिछला गेट भी टूटकर उलटा हो चुका था। बिट्टू सांखला स्टियरिंग में फंसा कर साइड वाली विंडो से बाहर लटका हुआ था। उसके सिर में गंभीर चोट आई थी। वहीं, पीछे बैठा अश्विन भी घायल था। गोकुल को चोट तो नहीं के बराबर आई, लेकिन हादसे के बाद वह पूरी तरह से दहशत में था। हादसे के बाद पुलिस की मदद से लोगों ने तीनों को निजी अस्पताल भिजवाया। जहां बिट्टू सांखला की मौत होने पर उसे एमवाय अस्पताल भेज दिया गया। सूचना के बाद संयोगितागंज पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया। ऐसी भी जानकारी मिली है कि युवकों ने पार्टी की थी।

बिट्टू सांखला एलएलबी फाइनल ईयर का छात्र था, जिम ट्रेनर भी था

24 वर्षीय ईश्वर यहां से एलएलबी कर रहा था। वह फाइनल ईयर का छात्र था। वह मूलत: राजस्थान मावली तहसील का रहने वाला था। इंदौर में वह राजबाड़ा स्थित ब्राह्मण समाज भवन में रहता था। उसके पिता यहां पर चौकीदारी करते हैं। इकलौते ईश्वर की मां का भी एक साल पहले सितंबर में देहांत हो चुका है। ईश्वर के बारे में यह भी पता चला है कि उसे जिम काफी शौक था। वह यहां पर एक जिम में ट्रेनर भी था। वह एलएलबी के साथ जिम में भी कॅरियर बनाने की तैयारी कर रहा था।

28 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here