Loading...    
   


मप्र: सरकारी स्कूलों में पढ़ाई के मामले में हरदा नंबर वन | MP NEWS

भोपाल। स्वच्छता के मामले में भले ही इंदौर देश का नंबर वन शहर हो परंतु सरकारी स्कूलों में पढ़ाई के मामले में हरदा टॉप पर है। हरदा ने इंदौर सहित देश के सभी 51 जिलों को पछाड़ दिया है। हरदा के 19 सरकारी स्कूल गोल्ड कैटेगरी में दर्ज किए गए हैं। हरदा के शिक्षकों के लिए यह गौरव का विषय है और प्रदेश के दूसरे शिक्षकों के लिए प्रेरणा का।

सरकारी स्कूलों में हुए मिडलाइन टेस्ट में बेहतर परिणाम देने के मामले में हरदा प्रदेश में पहले स्थान पर रहा है। जिले की 19 शासकीय शालाएं गोल्ड की श्रेणी में आईं हैं। जिले की इस उपलब्धि पर राज्य शिक्षा केंद्र के अधिकारियों ने शनिवार को भोपाल में जिला परियोजना समन्वयक डॉ. आरएस तिवारी को प्रमाण-पत्र देकर प्रदेश स्तर पर सम्मानित किया। 

भोपाल के एप्को पर्यावरण परिसर में हुए कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव रश्मि अरूण शमी, लोक शिक्षण आयुक्त जयश्री कियावत व राज्य शिक्षा केंद्र की संचालक आइरिन सिंथिया ने डीपीसी डॉ. तिवारी व डीईओ डीएस रघुवंशी को सम्मानित किया। जिले में विकासखंड हरदा की 8, खिरकिया की 7 और टिमरनी की 4 शालाएं गोल्ड की श्रेणी में आई हैं। जो प्रदेश में सर्वाधिक हैं।

जिले की शालाओं में बेसलाइन टेस्ट से एंडलाइन टेस्ट में विषय हिंदी में कहानी स्तर पर प्राथमिक शालाओं में 13.83 प्रतिशत गणित विषय में भाग स्तर पर 10.55 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। माध्यमिक शालाओं में 7.44 प्रतिशत, गणित विषय में भाग स्तर पर 7.16 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। आगामी एंडलाइन टेस्ट में जिले का लक्ष्य सभी विकासखंड की 20-20 शालाओं को गोल्ड श्रेणी में लाने का रखा गया है। डीपीसी डॉ. तिवारी ने इस सम्मान को जिले के सभी शिक्षकों को समर्पित करते हुए सभी शिक्षकों, संकुल प्राचार्य, विकासखंड शिक्षा अधिकारी, विकासखंड स्त्रोत समन्वयक को समर्पित किया है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here