भाजपा विधायक ने खुद को कमरे में बंद किया, 24 घंटे से ज्यादा हो गए | REWA MP NEWS
       
        Loading...    
   

भाजपा विधायक ने खुद को कमरे में बंद किया, 24 घंटे से ज्यादा हो गए | REWA MP NEWS

Pradeep Patel MLA Mauganj | Rewa, Madhyapradesh


भोपाल। मध्य प्रदेश के रीवा जिले की मऊगंज विधानसभा सीट से विधायक एवं भाजपा नेता प्रदीप पटेल ने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया है। 24 घंटे से ज्यादा का समय बीत गया, वह बाहर निकलने को तैयार नहीं है। आज का विधायक ने खुद को सहकारी समिति की एक कमरे में बंद कर रखा है। उनकी मांगे कि जब तक किसानों की फसल की खरीद शुरू नहीं हो जाती वह कमरे से बाहर नहीं निकलेंगे। 

कृषि उपज खरीदी केंद्र के कमरे में बंद है भाजपा विधायक

विधायक प्रदीप पटेल मऊगंज के मिसिरगवां पांती धान खरीदी केंद्र पर पहुंचे थे जहां धान खरीदी न होने के कारण किसान धरने पर बैठे हैं। विधायक ने वहां पहुंचकर मोर्चा संभाल लिया और कमलनाथ सरकार को खूब कोसा। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक लापरवाही से किसानों की धान नहीं बिक पाई और किसान आत्महत्या की बात कर रहे हैं। इससे अच्छा है कि मैं ही आत्महत्या कर लूं और फिर उन्होंने ऐलान किया कि वे खुद को खरीदी केंद्र के ही एक कमरे में बंद कर रहे हैं और तब तक बाहर नहीं आएंगे जब तक किसानों की धान नहीं खरीदी जाती। इसके लिए चाहे उनकी जान ही क्यों न चली जाए।

भाजपा विधायक प्रदीप पटेल ने खुद को कमरे के अंदर क्यों बंद किया

विधायक प्रदीप पटेल के इस ऐलान से प्रशासन हरकत में आया और उन्हें मनाने का दौर शुरू हुआ लेकिन विधायक कहां मानने वाले थे। उन्होंने खुद को कमरे में बंद कर रखा है। कमरे के बाहर उनके समर्थक भी डेरा जमाए हुए हैं। कुछ दिनों पहले इसी तरह के धरना प्रदर्शन में किसानों का समर्थन करने के कारण विधायक प्रदीप पटेल के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज कर लिया गया था। इसलिए इस बार उन्होंने आम रास्ते पर नहीं बल्कि खरीदी केंद्र के कमरे के अंदर खुद को बंद करके अनशन शुरू कर दिया है।

किसानों की आत्महत्या से पहले मैं मर जाऊंगा: प्रदीप पटेल भाजपा विधायक

इससे पहले विधायक प्रदीप पटेल ने कहा, ''20 जनवरी को धान खरीदी की आखिरी तारीख खत्म हो गयी लेकिन अभी तक 35 हजार बोरे पड़े हुए हैं। सरकार ने दो दिन का समय दिया तो उनका कहीं सर्वर डाउन है तो कहीं बोरे खत्म हैं। अब इसमें किसानों की क्या गलती है। ये सब कमलनाथ सरकार की गलती है।'' उन्होंने कहा, ''मुझसे किसान आत्महत्या करने की बात कह रहे हैं। तो मैंने यह तय किया है कि किसान क्यों मरें, उनकी जगह मैं ही मर जाता हूं। इसलिए मैं खुद को कमरे में बंद कर रहा हूं और तब तक बाहर नहीं आऊंगा जब तक किसानों की धान नहीं बिक जाती चाहे मेरी मौत ही क्यों न हो जाये।'

दूसरे दिन क्या हुआ

भाजपा विधायक मऊगंज क्षेत्र प्रदीप पटेल द्वारा अपने क्षेत्र अंतर्गत मिसिरगवा में सोसाईटी के कमरे के अंदर अपने को किया बंद। जिले भर के तमाम खरीदी केंद्रों में खरीदी शुरू करवाने की है माँग। 24 घंटे से अनवरत जारी है विधायक जी का अनशन। आज दूसरे दिन रीवा के सांसद मान जनार्दन मिश्र, विधायक मान शरदेन्दु तिवारी धान खरीदी केंद्र पर पहुंचे किसान विरोधी सरकार को चेतावनी दी।