105 साल की छात्रा ने चौथी कक्षा पास की
       
        Loading...    
   

105 साल की छात्रा ने चौथी कक्षा पास की


केरल: कहते हैं कि पढ़ने की कोई उम्र नहीं होती और भारत में इसका सबसे बेहतरीन उदाहरण है केरल की 105 वर्ष की भागीरथी अम्मा। जिन्होंने नवंबर 2019 में कक्षा चौथी की परीक्षा पास की है और सिर्फ पास ही नहीं की है बल्कि अव्वल नंबर से पास की है, उनका रिजल्ट 74.5 प्रतिशत रहा।

इसके साथ ही वे दुनिया की सबसे उम्रदराज स्टूडेंट बन गई है हालांकि यह अभी किसी रिकॉर्ड बुक में दर्ज नहीं है, लेकिन उनके लिए यह एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। भागीरथी अम्मा कोल्लम के पराक्कुलम में रहती हैं, और उनके पढ़ने के इस जज्बे की हर तरफ तारीफ हो रही है। उन्होंने केरल राज्य साक्षरता मिशन में हिस्सा लिया और इसके साथ ही सबसे अधिक उम्र वाली विद्यार्थी बन गई।

मां की असमय मृत्‍यु के बाद केरल की भागीरथी अम्‍मा की पढ़ाई 8 साल की उम्र में छूट गई वे परिवार संभालने लगीं। कम समय में पति की मौत के बाद उन पर अकेले ही अपने छह बच्‍चों के पालन-पोषण की जिम्‍मेदारी आ गई, महज 8 साल की उम्र में अपने भाई-बहनों की जिम्‍मेदारी न आती तो वह आज से 97 साल पहले चौथी कक्षा पास कर गई होतीं, लेकिन देर से ही सही ये उनकी एक बड़ी उपलब्धि है।

भागीरथी अम्मा उन लोगों के लिए भी बड़ा प्रेरणा स्रोत है जो यह कहते हैं कि अब हमारी पढ़ने की और सीखने की उम्र नहीं रही। उन्होंने यह साबित कर दिया कि ऐसा कहने वाले बिल्कुल गलत है किसी भी उम्र में पढ़ा जा सकता है किसी भी उम्र में सीखा जा सकता है अव्वल दर्जे से कक्षा चौथी की परीक्षा पास करने वाली भागीरथी अम्मा अब सबके दिलों में बस गई है आपकी इस उपलब्धि के लिए बहुत-बहुत बधाई।