मध्यप्रदेश में बुजुर्गों को राशन की होम डिलीवरी करेगी सरकार | MP NEWS
       
        Loading...    
   

मध्यप्रदेश में बुजुर्गों को राशन की होम डिलीवरी करेगी सरकार | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार अब राशन की होम डिलीवरी करने जा रही है। खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने आज इसकी घोषणा की। उन्होंने बताया कि ऐसे बुजुर्ग जिनकी उम्र 80 वर्ष से अधिक है उनके हिस्से का राशन उन्हें घर पर पहुंचाया जाएगा। उन्हें राशन की दुकान पर लाइन में लगने की जरूरत नहीं है। मंत्री तोमर ने यह नहीं बताया कि यह योजना कितनी तारीख से शुरू होगी।

बुजुर्गों को राशन की होम डिलीवरी में शर्त भी है

खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने एक साल का लेखा-जोखा पेश किया। रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए उन्‍होंने कहा कि अब बाकी सामानों की तरह ही केवल बुजुर्गों के लिए राहत देने के लिए बड़े स्तर पर तैयारियां की जा रही हैं। अब बुजुर्गों के लिए सरकारी अनाज की होम डिलीवरी की जाएगी, लेकिन इसके लिए 80 साल की उम्र होना जरूरी है। इसके लिए खाद्य विभाग अब राशन कार्ड के जरिए ऐसे बजुर्गों को चिन्हित कर रहा है, जो कि काफी उम्रदराज हैं और उनके घर में कोई वयस्‍क नहीं है। अब बुजुर्गों के लिए अनाज पहुंचाना सरकार और खाद्य विभाग की जिम्मेदारी होगी।

वेयरहाउस में सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं

खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का कहना है कि प्रदेश भर में राशन दुकानों पर खाद्य की कालाबाजारी रोकने के लिए सेल्समैन तैनात किए जा रहे हैं। जबकि हर राशन दुकान पर एक सेल्समैन तैनात होगा। इसके अलावा वेयरहाउस की निगरानी सीसीटीवी कैमरों से की जा रही। प्रदेश में आधे से ज्यादा वेयरहाउस में सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके हैं और बाकी को लेकर काम काफी तेजी से चल रहा है।