Loading...

JAHANUMA RETREAT की सब्जियों में सीवेज का पानी, BMC की टीम ने पंचनामा बनाया

भाेपाल। भोपाल शहर के मशहूर ब्रांड जहांनुमा रिट्रीट की सब्जियों में सीवरेज के पानी की सिंचाई पकड़ी गई है। यह दावा भोपाल नगर निगम की टीम ने पंचनामा कार्रवाई के बाद किया। नगर निगम ने यहां स्पॉट फाइन की कार्रवाई शुरू कर दी थी परंतु मौके पर कोई जिम्मेदार अधिकारी नहीं मिला इसलिए पंचनामा बनाया गया। जहांनुमा के मैनेजमेंट ने भोपाल नगर निगम के दावे को गलत बताया है। कमिश्नर नगर निगम का कहना है कि जहांनुमा रिट्रीट प्रबंधन के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

मॉर्निंग वॉक पर जाने वाले लोगों ने शिकायत की थी: BMC

वन विहार राेड पर माॅर्निंग वाक के लिए जाने वाले लाेगाें ने निगम के अधिकारियाें से शिकायत की थी कि जहांनुमा रिट्रीट की ओर से सीवेज की असहनीय बदबू आती है। इससे आशंका है कि सीवेज के पानी से यहां सब्जियाें समेत अन्य फसलों की सिंचाई की जा रही है। इसे जांचने के लिए सुबह करीब 7 बजे नगर निगम उपायुक्त विनाेद शुक्ला, क्षेत्रीय AHO, जाेनल अधिकारी समेत स्टाफ काे लेकर जहांनुमा पहुंचे थे। इस दाैरान सीवेज टैंक से सीधे पाइप लगाकर सब्जियाें की सिंचाई की जा रही थी। निगम अधिकारियाें का दावा है कि सब्जियाें की सिंचाई के दाैरान पूरे परिसर में बदबू फैली हुई थी। यहां सब्जियों के साथ ही गेहूं और गन्ने की फसल को भी इसी पानी से सींचा जा रहा था। काफी जद्दोजहद के बाद भी कोई जिम्मेदार सामने नहीं आया तो अमला पंचनामा बनाकर लौट गया। 

STP है लेकिन चलाकर नहीं दिखाया

जहांनुमा रिट्रीट के कर्मचारियाें ने निगम अमले काे बताया कि STP बना हुआ है। सीवेज वाटर काे इसमें ट्रीट किया जाता है। इसके बाद ही उसे दाेबारा उपयाेग किया जाता है। परिसर में बाेरवेल भी है। सिंचाई के लिए बाेरवेल का पानी भी उपयाेग किया जाता है। हालांकि, जब निगम अमले ने एसटीपी देखना चाहा ताे किसी ने उसका उपयाेग हाेता नहीं दिखाया।

अनट्रीटेड वाटर से हो रही थी सिंचाई 

जहांनुमा रिट्रीट में सब्जियाें की सिंचाई सीधे ताैर पर सीवेज के अनट्रीटेड वाटर से की जा रही थी। एसटीपी बना है, लेकिन उसका उपयाेग नहीं किया जा रहा था। फिलहाल पंचनामा बनाया गया है, आगे कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 
विनाेद शुक्ला, उपायुक्त, नगर निगम

सीवेज के पानी के उपयोग की बात सही नहीं

12 एकड़ का परिसर है। 10 एकड़ में सब्जियां, गेंहू आदि उगाए जाते हैं। सिंचाई के लिए बाेरवेल से पानी लिया जाता है। इसके साथ ही एसटीपी में ट्रीटेड पानी का उपयाेग करते हैं। सीवेज के पानी के उपयाेग की बात सही नहीं है। 
विसेंट मार्रक्वीस, जनरल मैनेजर, जहांनुमा रिट्रीट