मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री बने मुन्ना भाई, अस्पताल में केक काटकर जश्न मनाया | MP NEWS

इंदौर। अस्पतालों की अपनी मर्यादा होती है। इससे कहीं ज्यादा अस्पतालों के अपने नियम होते हैं क्योंकि अस्पताल में कई तरह के मरीज होते हैं। अस्पताल के अनुशासन में शांति सबसे पहला और अनिवार्य नियम है। बॉलीवुड की एक फिल्म 'मुन्ना भाई एमबीबीएस' में मुख्य किरदार ने अस्पताल में जश्न मना कर मरीजों का मनोरंजन किया था। रियल लाइफ में मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने सरकारी अस्पताल में केक काटकर जश्न मनाया और मनी मरीजों का मनोरंजन किया। लेकिन शायद स्वास्थ्य मंत्री भूल गए की रील लाइफ नहीं रियल लाइफ है। यहां आपत्तियां उठती हैं, निंदा और विरोध भी होता है। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया के जन्मदिन का जश्न एडवांस में मनाया 

लोकसभा चुनाव हारने के बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी तक पहुंचने में नाकाम रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया नए साल का जश्न मनाने विदेश चले गए हैं। हाल ही में उनके खास समर्थक विधायक बनवारी लाल शर्मा का निधन हुआ है। अतः ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने समर्थकों से कहा है कि इस बार वह उनके जन्मदिन का जश्न ना मनाए लेकिन सिंधिया की अपील का उल्टा असर हुआ। ज्योतिरादित्य सिंधिया का जन्मदिन 1 जनवरी को है, जश्न का सिलसिला 30 दिसंबर से ही शुरू हो गया। सिंधिया समर्थक मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने मध्यप्रदेश शासन की पीसी सेठी अस्पताल में केक काटकर अपने पॉलिटिकल गॉडफादर का बर्थडे सेलिब्रेट किया। इस दौरान कुछ गरीब मरीजों को कंबल भी बांटे गए। अभी यह पता नहीं चल पाया कि यह कंबल सरकारी खजाने से खरीदे गए थे या नहीं। 

भाजपा सांसद शंकर लालवानी ने मुद्दा लपक लिया 

इंदौर की राजनीति में अपनी सीट आरक्षित करने में लगे सांसद शंकर लालवानी ने इस मुद्दे को लपक लिया। उन्होंने कहा कि 15 साल के लम्बे इंतजार के बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी है। इसलिए कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता अतिउत्साह में हैं। उन्होंने नियम कायदों को ताक पर रख दिया है और तो और उनके मंत्री तक प्रतिबंधित जगहों पर भी जश्न मना रहे हैं और अस्पताल जैसी संवेदनशील जगह पर केक काट रहे हैं, जोकि गलत है।