दोस्त को मदद करने के बदले आत्महत्या करनी पड़ी | INDORE NEWS
       
        Loading...    
   

दोस्त को मदद करने के बदले आत्महत्या करनी पड़ी | INDORE NEWS

इंदौर। भागीरथपुरा में रहने वाले युवक की आत्महत्या के मामले में पुलिस ने केस दर्ज किया है। बताया जाता है कि साथी को रुपयों की जरूरत होने पर उधार लेकर उसकी मदद की। यही मदद उसकी मौत का कारण भी बन गई। उसका साथी रुपए लौटाने के लिए तैयार नहीं था और जिससे रुपए उधार लिए थे, वह वापसी के लिए परेशान कर रहा था। दोनों से परेशान होकर उसने आत्महत्या कर ली।

लसूडिय़ा पुलिस के अनुसार महेश (50) भागीरथपुरा (Mahesh Bhagirathpura)ने अरंडिया बायपास पर आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में पुलिस ने ऋषभ पाटनी और टिंडी (Rishabh Patni and Tindi) के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया है। पुलिस जांच में पता चला है कि आरोपित ऋषभ पाटनी (Rishabh Patni) और महेश दोनों साथी थे। ऋषभ को रुपयों की जरूरत थी। इसके चलते उसने महेश से मदद मांगी। महेश ने टिंडी से ब्याज पर रुपए लिए और आरोपित को दे दिए। ऋषभ ने रुपए तो ले लिए, लेकिन इसके बाद लौटाए नहीं।

महेश ने उससे कई बार रुपए मांगे, लेकिन उसने मना कर दिया। इधर टिंडी भी महेश पर दबाव बना रहा था कि उसके रुपए वापस करे। दोनों आरोपित आपस में मिल गए रुपए वापसी के लिए दबाव बना रहे थे। महेश की हालत भी ऐसी नहीं थी कि वह अपने पास से ही उधार के रुपए लौटा दे। वह दोनों से इतना परेशान हो गया था कि उसने आत्महत्या करने का मन बना लिया। इसके बाद उसने जहर खा लिया था। उसे अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। उसकी जेब से एक सुसाइड नोट भी मिला था। जिसमें ऋषभ पाटनी और टिंडी से परेशान होकर आत्महत्या करने की बात लिखी थी। पुलिस अब दोनों आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है।