Loading...

ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एसोसिएशन ने 20-50 के फार्मूले का विरोध किया | TWTA NEWS

सिवनी। ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एसोसिएशन के प्रांतीय प्रवक्ता संजीव सोनी ने विज्ञप्ति जारी करते हुए बताया गया कि ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एसोसिएशन की जिला शाखा सिवनी की बैठक शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय धनौरा में आयोजित की गई। जिसमें शिक्षा गुणवत्ता के साथ शिक्षकों की समस्याओं पर विस्तृत चर्चा की गई।  

एसोसिएशन के प्रांताध्यक्ष डी के सिंगौर के समक्ष संतोष वेदी, टीकाराम वकोड़े, महेंद्र श्रीवास्तव, राजेंद्र मरावी, विजय उपाध्याय, नीलेश जैन ने विकासखंड के अध्यापक शिक्षकों की ब्लाक, जिले एवं प्रदेश स्तरीय समस्याओं को बिंदूवार रखा। साथ ही कुछ शिक्षकों ने अपनी व्यक्तिगत समस्याओं से भी प्रांताध्यक्ष को अवगत कराया। प्रांताध्यक्ष डी के सिंगौर ने अपने उद्बोधन में एसोसिएशन के गठन की आवश्यकता, उद्देश्य एवं उपलब्धियों को बताते हुए सभी शिक्षकों की समस्याओं का बिंदूवार समाधान बताया तथा प्रदेश स्तरीय समस्याओं को शीघ्र हल कराने आश्वासन दिया। 

बैठक में शिक्षकों ने शिक्षा विभाग द्वारा मुख्यत रीवा, सतना, सिंगरौली एवं अन्य जिले के 16 शिक्षकों को 20-50 के फार्मूले के अंतर्गत अनिवार्य सेवानिवृत्ति का विरोध करते हुए कहा है एक ओर वर्तमान में सरकारी विद्यालयों में शिक्षकों की भारी कमी है, वहीं दूसरी ओर विभागीय योजनाओं की भरमार है, इसके साथ ही शिक्षकों को जबरन गैर शिक्षकीय कार्यों संलग्न किया जा रहा है। इसके चलते परीक्षा परिणामों में अपेक्षित सुधार नहीं हो रहा है। ऐसे में पेंशन विहीन शिक्षकों को (जिसमें से एक शिक्षक की दोनों किडनी खराब हो) अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने से उनके परिवार के सामने भरण पोषण, शिक्षा, स्वास्थ्य संबंधी बुनियादी आवश्यकताओं की भारी समस्या खड़ी हो जाएगी। विभाग ने इन 16 शिक्षकों को अपनी कार्य दक्षता सुधारने का मौका नहीं दिया गया जबकि इन शिक्षकों को परीक्षा परिणाम सुधारने के लिए कम से कम एक शैक्षिक वर्ष मौका देना चाहिए था। विभाग चाहे तो ऐसे शिक्षकों को अन्य कार्यों में लगाया जा सकता है। 

एसोसिएशन ने मांग की है कि, अनिवार्य सेवानिवृत्त किए इन 16 शिक्षकों को बहाल करते हुए इस फार्मूले से शिक्षकों पर होने वाली कार्यवाही को तत्काल बंद किया जाए। यदि इन शिक्षकों को बहाल नहीं किया गया तो 04 दिसंबर तक इन शिक्षकों को बहाल नहीं किया जाता तो ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एसोसिएशन शिक्षक महासंघ के साथ 05 दिसंबर को ब्लाक स्तर पर, 10 दिसंबर को जिला स्तर पर और 15 दिसंबर को प्रदेश स्तर पर धरना प्रदर्शन करेगा। 

बैठक में मंडला से संजीव सोनी, प्रकाश सिंगौर, नंदकिशोर कटारे के साथ ही सिवनी जिले के नीरज दुबे, मनोज शर्मा, हलधर शर्मा, रोशन नामी,  राजकुमार प्रजापति, करीम खान, अलकेश यादव, ठाकुर सिंह मरकाम, रामभगस शाक्यवार, अंंतूलाल केराम, रोशनी जैन, सुनीता ठाकुर, अंजूलता वोपचे, लक्ष्मी चौकसे, रश्मि राय, बीना इनवाती, सुनीता श्रीवास्तव, कमला शाक्यवार, सविता निर्मलकर सहित सैकड़ों अध्यापक शिक्षक शामिल हुए।

एसोसिएशन की परम्परा के अनुसार प्रांताध्यक्ष का स्वागत कापी पेन से किया गया, जिन्हें धनौरा ब्लाक की सबसे दूरस्थ क्षेत्र की प्राथमिक शाला बलपुरा के छात्रों को वितरित करने हेतु शिक्षक पवन पटेल को सौंपी गई।