Loading...

चमत्कारी महुआ पेड़ को छूने जा रहे ग्रामीणों ने पुलिस पर हमला किया, TI सहित 6 घायल

होशंगाबाद। पिपरिया गांव में यह अफवाह फैलने के बाद कि महुआ के पेड़ को छूने से परेशानियां दूर होती हैं, भारी संख्या में भीड़ जुट रही थी। बेकाबू भीड़ प्रतिबंधित जंगल क्षेत्र में घुसने के कारण पुलिस प्रशासन ने 2 दिन पहले यहां प्रतिबंध लगा दिया था। महुआ के पेड़ को छूने को बेताब भीड़ ने पुलिस पर पथराव कर दिया। इस पथराव में आधा दर्जन से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो गए।

हजारों लोग महुआ पेड़ स्थल पर पहुंच रहे थे


खबरों के अनुसार बनखेड़ी टीआई शंकरलाल झरिया के सिर में पत्थर से चोट आई है। खबरों के अनुसार स्टेशन रोड टीआई सतीश अंधवान की सूझबूझ से बड़ी घटना होने से टल गई। खबरों के अनुसार आज बुधवार होने के कारण हजारों लोग महुआ पेड़ स्थल पर पहुंच रहे थे, जब उन्हें जाने से रोका गया तो भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया।

कुछ दिनों पहले कुछ शरारती लोगों ने यह अफवाह फैलाई थी कि जंगल में लगे महुआ के पेड़ को छूने से सभी प्रकार की शारीरिक परेशानियां समाप्त हो जाती हैं। यह अफवाह सोशल मीडिया पर इतनी तेजी से फैल रही है कि प्रतिदिन यहां लाखों लोग पहुंच रहे हैं। इन्हें कंट्रोल करने में पुलिस को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

लोगों में अंधविश्वास इतना बढ़ गया कि प्रतिबंधित जंगल क्षेत्र में भी लाखों की संख्या में लोग पहुंचने लगे और अंधविश्वास के सामने प्रशासन बौना नजर आने लगा। भीड़ को देखते हुए पुलिस ने प्रतिबंध लगा दिया था।