Loading...

भाजपा कमलनाथ को मुंहतोड़ जवाब देगी: शिवराज सिंह चौहान | MP NEWS

भोपाल। भाजपा विधायक प्रहलाद लोधी की सदस्यता समाप्त करने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ सरकार पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने खुलकर कहा कि जिस तरह की राजनीति कमलनाथ कर रहे हैं भाजपा इसका मुंहतोड़ जवाब देगी। बता देंगे सीएम कमलनाथ ने हाल ही में कहा है कि अभी तो दो-तीन सीटें और कांग्रेस के पास आएंगी।

बता दें कि पवई सीट से विधायक प्रह्लाद लोधी को कोर्ट से 2 साल की सजा होने के बाद विधानसभा सचिवालय ने उनकी सदस्यता शून्य घोषित कर दी थी। इससे पहले झाबुआ विधानसभा उपचुनाव कांग्रेस जीत चुकी है। इस फैसले के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बयान दिया कि अभी दो-तीन सीटें और कांग्रेस के पास आएंगी, इंतजार कीजिए। उन्होंने कटाक्ष किया कि 15 साल से भाजपा नेताओं के कारनामे सामने आ रहे हैं। अभी तो और आएंगे। 

मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान के बाद बाद दोपहर पौने दो बजे पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई और कहा कि कांग्रेस जो हथकंडे अपना रही है, भाजपा इसका मुंहतोड़ जवाब देगी। लोधी से पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने बात की है। विधानसभा सचिवालय के फैसले पर कानूनी राय लेंगे। इधर, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने बताया कि लोधी से संबंधित फैसले की जानकारी उनके पास नहीं पहुंची है।

फैसले की प्रति नहीं मिली: प्रहलाद लाेधी 

अदालत ने मुझे 12 दिसंबर तक वक्त दिया है। जमानत भी मिल गई, इसके बाद भी विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने हिटलरशाही पूर्ण रवैया अपनाते हुए एकतरफा निर्णय लिया है। मुझे विधानसभा के फैसले की प्रति अब तक नहीं मिली है। 

सीट रिक्त करने का अधिकार अध्यक्ष को नहीं: शिवराज सिंह चौहान

दि रिप्रेजेंटेशन ऑफ पीपुल्स एक्ट में जिस धारा 191 के तहत सीट रिक्त की गई, उसका अधिकार विधानसभा अध्यक्ष को है ही नहीं। यह अधिकार तो राज्यपाल का है। राजनीतिक लाभ के लिए यह फैसला दिया गया। 

जनप्रतिनिधित्व कानून की धारा 8 (4) को निरस्त किया जा चुका है: जयवर्धन सिंह 

जयवर्धन सिंह, नगरीय विकास मंत्री ने कहा कि 2013 में सुप्रीम कोर्ट द्वारा जनप्रतिनिधित्व कानून की धारा 8 (4) को निरस्त किया जा चुका है। शिवराज जी, कानून और कोर्ट के आदेश पर विवेक से काम लीजिए।