Loading...

शासकीय अध्यापक संगठन ने क्रमोन्नति और 7वां वेतनमान के लिए ज्ञापन सौंपा | MP NEWS

सीधी। शासकीय अध्यापक संगठन के जिला प्रवक्ता श्रवण कुमार मिश्र द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि 7 नवम्बर 2019 को शासकीय अध्यापक संगठन का प्रतिनिधि मण्डल प्रांतीय उपाध्यक्ष जय भारत सिंह चौहान एवं प्रांतीय प्रवक्ता अभय राज योगी के नेतृत्व में नवीन शिक्षक संवर्ग की विभिन्न समस्याओं को लेकर मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सीधी एवं सहायक आयुक्त,आदिवासी विकास विभाग सीधी से मिलकर नवीन शिक्षक संवर्ग की समस्याओं की ओर ध्यान आकृष्ट कराया गया। 

प्रमुख रूप से 12 वर्ष या उससे अधिक की सेवा पूर्ण कर चुके साथियो के प्रथम क्रमोन्नति आदेश जारी किए जाए, परिवार नियोजन अंतर्गत ग्रीन कार्डधारियों को विशेष वेतन बृद्धि का लाभ दिया जाकर सेवा पुस्तिकाओं का सत्यापन कराया जाए। सातवां वेतनमान का निर्धारण कराया जाकर माह नवम्बर पेड़ दिसम्बर में भुगतान कराया जाए। उक्त समस्याओं को माननीय अधिकारी महोदयों द्वारा सम्बेदनशीलता के साथ सुनकर शिक्षा स्थापना लिपिकों को बुलाकर अतिशीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिए। श्रीमान सहायक आयुक्त महोदय द्वारा आश्वासन दिया गया कि 01/07/2018 के बाद नियुक्ति दिनांक से जिनकी सेवाएं पूर्ण हो चुकी है ऐसे कर्मचारियों की गोपनीय चरित्रावली भेजने का प्रस्ताव एवं सातवां वेतनमान निर्धारण करने का आदेश इस कार्यालय से संकुल प्राचार्यों को अतिशीघ्र भेजा जाएगा व् शासन द्वारा सेवा शर्तों में उल्लेखित सभी शर्तों का लाभ समयसीमा में दिए जाने का आश्वासन दिया गया।

श्रीमान मुख्य कार्य पालन अधिकारी महोदय जी द्वारा अध्यापक सम्बर्ग की जिला पंचायत में लम्बित दो समस्याओं को सम्बेदनशीलता के साथ सुनने का बाद स्थापना शिक्षा के लिपिक मो.शरीफ  को बुलाकर लम्बित क्रमोन्नति आदेश एवं परिवार नियोजन अंतर्गत ग्रीन कार्डधारियों को  बिशेष बेतनवृद्धि का लाभ दिलाए जाने का आदेश प्रसारित करने के अतिशीघ्र निर्देश दिए जिससे सेवा पुस्तिकाओं के सत्यापन में उक्त वेतन बृद्धि का लाभ दिया जा सके। उक्त प्रतिनिधि मंडल में अभयराज योगी,प्रांतीय प्रवक्ता,जय भारत सिंह जी चौहान प्रांतीय उपाध्यक्ष,श्रवण कुमार मिश्र जिला प्रवक्ता/मीडिया प्रभारी,गंगा सागर त्रिपाठी,ब्लाक अध्यक्ष कुसमी,संजय तिवारी,कोमलचंद्र जायसवाल,कमलेश पाण्डेय,प्रमोद कुमार पाण्डेय, सुरेंद्र कुमार पटेल,अनादि मिश्र,रामधारी साकेत,रामपाल आदि शामिल थे।