Loading...

जांच में गबन का दोषी पाया गया ट्राइबल योजना प्रभारी सस्पेंड | JABALPUR NEWS

जबलपुर। एमपी के जबलपुर में आदिम जाति कल्याण विभाग (Tribal Welfare Department) के योजना प्रभारी गुलाब गुप्ता (Gulab Gupta) ने महिला कर्मचारी के सहयोग से हितग्राहियों को मिलने वाले 85 लाख रुपए स्वयं के खाते में जमा कर लिए।

मामले की जांच में हुए गबन के खुलासे के बाद कलेक्टर ने कर्मचारी गुलाब गुप्ता व महिला कर्मचारी को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया। बताया जाता है कि आदिम जाति क ल्याण विभाग में आदिवासी योजना के प्रभारी गुलाब गुप्ता ने अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण के प्रकरणों में हितग्राहियों को मिलने वाले 85 लाख रुपए स्वयं के खाते में ट्रांसफर कर लिए, जिसकी शिकायत वर्ष 2017 में की गई थी, जिसमें गुलाब गुप्ता को दोषी पाया गया। 

गुलाब गुप्ता ने शासकीय कर्मचारी होते हुए खुद को वेंडर बनकर स्वयं के खाते में रुपया ट्रांसफर कर लेते थे।मामले की जांच में हुए खुलासे के बाद कलेक्टर भरत यादव ने गुलाब यादव व उसके साथ विभाग की ही सहायक ग्रेड टू महिला कर्मचारी को पूरे मामले में दोषी पाते हुए सस्पेंड कर दिया है।