Loading...

मप्र के कर्मचारियों ने भी मांगी वन नेशन-वन पेंशन | EMPLOYEE NEWS

जबलपुर। मप्र तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी के अध्यापक प्रकोष्ठ ने कहा कि प्रधानमंत्री ने लाल किले से वन नेशन-वन पेंशन लागू करने की घोषणा की थी लेकिन राज्य कर्मचारियों को इसका लाभ नहीं मिल रहा है। प्रकोष्ठ केमुकेश सिंह ने बताया कि एक देश में संविधान लागू है तो पेंशन के मापदंड दो क्यों? 

वर्ष 2005 के बाद भर्ती हुए सभी राज्य व केंद्रीय कर्मचारियों को नवीन पेंशन योजना के अंतर्गत एनएसडीएल के माध्यम से पेंशन की पात्रता दी गई है। प्रकोष्ठ ने नितिन अग्रवाल, गगन चौबे, मोर. तारिक, धीरेन्द्र सोनी, मनोज सेन, महेश कोरी, राकेश दुबे, संतोष तिवारी आदि ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि प्रदेश में नवीन पेंशन योजना को तत्काल बंद कर पुरानी पेंशन योजना लागू करना चाहिए।

अंबिका प्रसाद सदस्य मनोनीत

पेंशनर्स एसोसिएशन मप्र जिला शाखा अध्यक्ष एमएल अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि मप्र शासन वित्त विभाग ने मप्र पेंशनर्स कल्याण मंडल का गठन कर अंबिका प्रसाद रावत को सदस्य मनोनीत किया गया है।