Loading...

वनविभाग की व्हिसल ब्लोअर लड़की नाम गोपनीय रखने 4 माह तक रेप करवाती रही | BETUL CRIME NEWS

बैतूल। यदि आप किसी चोर को पकड़वाकर सरकार की मदद करते हैं तो होना यह चाहिए कि सरकार आपकी रक्षा करे परंतु यहां उल्टा हुआ है। सागौन चोर को पकड़वाने वाली लड़की का वनकर्मी एवं लड़की के अपने रिश्तेदार ने 4 माह तक रेप किया। लड़की केवल इसलिए चुप रही क्योंकि वो चाहती थी कि उसका नाम गोपनीय रहे। यदि सागौन चोर को पता चल गया तो परिवारों में तनाव बढ़ जाएगा। 

रिश्तेदार के यहां अवैध सागौन पकड़वाया था

आमला थाना के एसआई अपाला सिंह ने बताया 19 वर्षीय युवती ने कुछ माह पहले अपने एक रिश्तेदार के यहां अवैध सागौन के फर्नीचर होने की सूचना वन विभाग को दी थी। इसके बाद वन विभाग ने उस रिश्तेदार के घर से अवैध सागौन का फर्नीचर जब्त करने की कार्रवाई की थी। जैतपुर गांव के एक युवक ने वन विभाग को सूचना देने में युवती की सहायता की थी। 

नाम गोपनीय रखने के लिए रिश्तेदार रेप करवाती रही

वन विभाग की कार्रवाई के बाद युवक ने लड़की के एक रिश्तेदार को यह बता दिया कि युवती ने वन विभाग को सूचना देकर सागौन पकड़वाया था। रिश्तेदार ने युवती को धमकाया कि वो पूरे परिवार और सभी रिश्तेदारों का यह जानकारी दे देगा। युवती ने नाम गोपनीय रखने का निवेदन किया तो रिश्तेदार ने उसने ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। पहली बार उसने जून में दुष्कर्म किया। इसके बाद कई बार ब्लैकमेल कर युवती के साथ दुष्कर्म करता रहा। 

वनकर्मी को पता चला तो वो भी रेप करने लगा

यह बात जब वनकर्मी नरेंद्र साहू को लगी तो उसने भी युवती को ब्लैकमेल कर दुष्कर्म किया। दोनों आरोपियों ने 4 माह में कई बार युवती के साथ रेप किया। युवती ने परिजनों को अपने साथ हो रही आपबीती बताई तब दोनों आरोपियों पर मामला दर्ज कराया। पुलिस ने आरोपी रिश्तेदार और वनकर्मी पर दुष्कर्म व एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

अनिल शुक्ला, एसडीओपी, मुलताई का कहना है कि युवक और वनकर्मी ने युवती का रेप किया है। युवती की शिकायत पर दोनों आरोपियों पर मामला दर्ज कर गिरफ्तारी के प्रयास कर रहे हैं।