Loading...

GWALIOR में 2 मंत्रियों के साथ धक्का-मुक्की (VIDEO), कांग्रेस की बैठक में भारी बवाल

ग्‍वालियर। ग्वालियर में कांग्रेस कार्यालय में जमकर बवाल हुआ। 2 मंत्री और 2 विधायकों की मौजूदगी में कार्यकर्ताओं ने बवाल काटा। इस बीच दोनों मंत्रियों के साथ भी धक्का-मुक्की की गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों मंत्रियों को सुरक्षा घेरा उपलब्ध कराया तब कहीं जाकर उपद्रव शांत हुआ। 

मध्य प्रदेश में अब दलाल कांग्रेस का गठन करना चाहिए: विधायक ने कहा

रविवार देर शाम सिंघार जिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक ले रहे थे। बैठक में कार्यकर्ताओं के साथ ही दो विधायक और मंत्री लाखन सिंह भी मौजूद थे। इसी दौरान कमलनाथ सरकार में काम न होने से नाराज कुछ कार्यकर्ताओं ने ये तक कह दिया कि पार्टी में अब एक दलाल कांग्रेस का गठन कर देना चाहिए। इसके बाद कुछ कार्यकर्ता विधायक के समर्थक में नारे लगाने लगे, तो वहीं इस पर आपत्ति लेते हुए दूसरे कार्यकर्ता पूर्व सांसाद ज्योतिरादित्य माधवराव सिंधिया के पक्ष में नारेबाजी करने लगे। 

मंत्री और प्रभारी मंत्री के साथ भी धक्का-मुक्की की गई

बस यहीं से बवाल शुरु हो गया और यह इतना बड़ा हो गया कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं में धक्का-मुक्की शुरू हो गई। इस दौरान विधायक, मंत्री और प्रभारी मंत्री के साथ भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धक्का-मुक्की की। इस बवाल के बाद पुलिस सुरक्षा के लिए पहुंची और प्रभारी मंत्री उमंग सिंघार को बैठक से उठाकर कांग्रेस पदाधिकारी के कमरे में पहुंचाया गया। 

मंत्री लाखन सिंह नाराज, उमंग सिंघार शांत

वरिष्ठ पार्षद और नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष कृष्णराव दीक्षित का कहना है कि बैठक में कुछ असामाजिक तत्वों ने बवाल किया है, तो वहीं दलाल कांग्रेस की स्थापना जैसे शब्दों के इस्तेमाल करने को लेकर मंत्री लाखन सिंह ने भी नाराजगी जताई। मंत्री लाखन सिंह ने कहा कि इसकी बातें अध्यक्ष के साथ बंद कमरे में करनी चाहिए थीं और ऐसी घटना बैठक में नहीं होनी चाहिए। जब‍कि इस पूरे बवाल पर प्रभारी मंत्री उमंग सिंघार ने कहा कि कार्यकर्ताओं की भावना है इनके बीच में क्या बोलूं?