Loading...

SAMVIDA KARMACHARI: निकाले गए बहाल होंगे, सेवाएं नियमित की जाएंगी: कमलनाथ

भोपाल। मध्य प्रदेश के संविदा कर्मचारियों को कमलनाथ सरकार ने बड़ी राहत दी है। सीएम कमलनाथ ने घोषणा की है कि सभी निकाले गए संविदा कर्मचारियों को नौकरी पर वापस रखा जाएगा। संविदा कर्मचारियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने कांग्रेस मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष सैयद जाफर के साथ सीएम कमलनाथ से मुलाक़ात की थी। उसके बाद सीएम ने इसका एलान किया।

सीएम कमलनाथ के साथ हुई बैठक और चर्चा में स्वास्थ्य, ग्रामीण विकास, महिला एवं बाल विकास विभाग,सहकारिता विभाग के अफसर मौजूद थे। सीएम कमलनाथ ने विभागों को निर्देश दिए कि सभी विभागों में संविदा कर्मचारियों को नियमित पद के हिसाब से 90 फीसदी वेतन दिया जाए। 

महिला एवं बाल विकास विभाग की सुपरवाइजरों को रक्षाबंधन के पहले 90 फीसदी वेतनमान दिया जाएगा। सीएम ने सभी संविदा कर्मचारियों को नियमित पदों पर मर्ज करने का निर्देश दिया है। अगर नियमों में बदलाव की ज़रूरत पड़ी तो अफसर कैबिनेट में प्रस्ताव भेजेंगे। अब कोई भी संविदा कर्मी विभागों से निकाला नहीं जाएगा। गड़बड़ी और लापरवाही के मामले में जांच कर आगे कार्रवाई की जाएगी।

प्रोजेक्ट खत्म होने पर ये संविदा कर्मचारी नए प्रोजेक्ट या काम में मर्ज होंगे। सीएएम कमलनाथ के साथ कर्मचारियों की बैठक करीब डेढ़ घंटे चली, उसमें ये फैसला लिया गया।