Loading...

NEW STARTUP IDEA: टेराकोटा के बर्तन बनाइए, सरकारी सप्लाई भी होगी | WORK FROM HOME

यह बिल्कुल नया स्टार्टअप आइडिया है। कोई भी शुरू कर सकता है। बहुत ज्यादा पूंजी की जरूरत नहीं है। स्थापना के लिए सरकार मदद करती है। देश के हर शहर में फिलहाल अच्छा स्कोप है। टेराकोटा के बर्तन खासकर कुल्हड़ की सरकारी सप्लाई भी होने वाली है। मांग पैदा हो रही है, जिसके पास सप्लाई होगी वही मालामाल हो जाएगा। 

सरकार की मंशा को समझिए


2004 में तत्कालीन रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव ने एक अभियान शुरू किया था। रेलवे स्टेशनों पर कुल्हड़ में चाय। अब इसी अभियान को केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी आगे बढ़ा रहे हैं। नरेंद्र मोदी सरकार के तमाम मंत्री उनके साथ हैं। यानी नेशनल हाइवे, बस स्टेंड, रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर अब कुल्हड़ में चाय मिलेगी। 

बिजनेस आइडिया क्या है

माना जाता है कि कुल्हड़ का निर्माण कुम्हार करते हैं परंतु यह कुम्हारों के लिए आरक्षित व्यवसाय नहीं है और कुम्हार समाज के ज्यादातर युवा नौकरियों एवं दूसरे स्टार्टअप में शामिल हो चुके हैं। बाजार में टेराकोटा से बने कुल्हड़, गिलास और प्लेटों की मांग बढ़ रही है। जो भी व्यक्ति इनका उत्पादन शुरू करेगा, उसे लाभ मिलना निश्चित है। 

टेराकोटा क्या होता है 


लाल मिट्टी को पकाकर सजावटी सामान बनाने की कला 'टेराकोटा कला' कहलाती है। इसके तहत मिट्टी के आकर्षण डिजाइन वाले बर्तन बनाए जाते हैं। बाजार में इन दिनों ज्यादातर टेराकोटा के बर्तन ही उपलब्ध होते हैं जो सर्वाधिक विक्रय किए जाते हैं। 

सरकार क्या मदद करेगी

यदि आप टेराकोटा बर्तन प्लांट शुरू करना चाहते हैं तो खादी और ग्रामोद्योग इसमें आपकी मदद करेगा। खादी और ग्रामोद्योग आयोग के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना का कहना है कि हमने पिछले साल 10 हजार इलेक्ट्रिक व्हील को दिए थे। इस साल हमारा लक्ष्य 25 हजार इलेक्ट्रिक व्हील सप्लाई का है।

कितनी पूंजी लगेगी, कितनी कमाई होगी


एक यूनिट की स्थापना के लिए आपके घर का आंगन और ज्यादा से ज्यादा 50 हजार रुपए का खर्चा है। एक बर्तन अधिकतम 1 मिनट में बनकर तैयार हो जाता है। यदि आप सिर्फ 4 घंटे काम करते हैं तो 200 से ज्यादा बर्तन बना सकते हैं। यदि आप सीधे बिक्री नहीं करते बल्कि विक्रेता आपके घर से बर्तन ले जाता है तब भी एक बर्तन पर कम से कम 2 रुपए का मुनाफा है। यानी एक दिन में 4 घंटे काम करने पर 400 रुपए। मात्र 50 हजार रुपए की पूंजी लगाने पर 12 हजार रुपए महीने। 

टेराकोटा बर्तन कैसे बनाए

टेराकोटा कला से आप बर्तन, गुलदस्ते या सजावट के बहुत सारे सामान बना सकते हैं। यदि आपके पास एक क्रिएटिव माइंड है तो यह सुनिश्चित है कि पैसा आपके घर चलकर आएगा। यदि नहीं भी है तो यूट्यूब पर बहुत सारे ट्यूटोरियल मौजूद हैं। एक यह भी है।