Loading...

BHOPAL में बन रही है 6 मंजिला स्टेट लाइब्रेरी, मुख्य सचिव का ड्रीम प्रोजेक्ट

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्य सचिव सुधी रंजन मोहंती को अब दशकों तक याद किया जाएगा। लोग जब भी भोपाल में स्थित स्टेट लाइब्रेरी को देखेंगे उन्हे याद आएगा कि एक अफसर था जिसने व्यक्तिगत रुचि लेकर यह काम किया। यह देश की सबसे बड़ी लाइब्रेरियो में से एक होगी और अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित भी। 

क्या क्या मिलेगा BHOPAL की STATE LIBRARY में

इस लाइब्रेरी में दो लाख किताबें, ऑडियो-वीडियो में रीडिंग मटेरियल, माइक्रो फिल्म्स, बच्चों से लेकर बड़ों तक के लिए लेटेस्ट मल्टी मीडिया सेक्शन, रिसर्च व जर्नल होंगे। यहां एक बार में 2500 लोग एक साथ बैठकर किताबें पढ़ सकेंगे। यह करीब ढाई एकड़ में 60 करोड़ की लागत से बनेगी। किताबों की संख्या के लिहाज से भी यह प्रदेश की सबसे बड़ी लाइब्रेरी होगी, जो पढ़ने वालों के लिए 24 घंटे खुली रहेगी। प्रदेश के मुख्य सचिव एसआर मोहंती का यह ड्रीम प्रोजेक्ट लोक शिक्षण संचालनालय के माध्यम से अगले दो साल में आकार ले लेगा।

छह मंजिला इमारत, इसी साल लाइब्रेरी का काम शुरू होगा

दरअसल, सात नंबर बस स्टाप के पास जिस जगह यह लाइब्रेरी बनना प्रस्तावित है, उसके तीन ओर शिक्षण संस्थान हैं। एक तरफ सुभाष स्कूल व केंद्रीय विद्यालय, दूसरी तरफ नूतन कॉलेज और तीसरी तरफ महिला पॉलिटेक्निक कॉलेज है। बजट में राशि का प्रावधान कर दिया गया है। इसी साल लाइब्रेरी का काम शुरू होगा। इसके 2020-21 तक पूरा होने की उम्मीद है। छह मंजिला लाइब्रेरी के शुरुआती फ्लोर में पार्किंग होगी। इसके बाद के पांच फ्लोर लाइब्रेरी के होंगे।

खास बातें

-60 करोड़ रुपये की होगी लागत
-2500 लोग एक साथ बैठ सकेंगे
-6 मंजिला भवन, एक फ्लोर पर पार्किंग
-24 घंटे खुली रहेगी रीडर्स के लिए
-02 साल में होगी बनकर तैयार
-7 नंबर बस स्टॉप के पास बनेगी