Loading...

रविंद्र सिंह भदौरिया का 2 मंजिला मकान ढहाया, कुकरेजा की जमीन पर बना था | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। नगर निगम ने मंगलवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए मांढरे की माता के समीप अवैध रूप से किए गए कब्जे को बुल्डोजर चला कर ढहा दिया। इसके लिए पहले भी कब्जाधारी को नोटिस दिया गया था। लेकिन उन पर इसका कोई असर नहीं हुआ। मंगलवार को जब निगम का अमला यहां से कब्जा हटाने पहुंचा तो पहले तो कब्जा किए बैठे व्यक्ति ने अपनी ताकत दिखाने का प्रयास किया, वह अन्य लोगों के साथ निगम कर्मचारियों से जूझने के मूड में भी आ गया। लेकिन भारी पुलिस बल के सामने उसकी चली नहीं। पुलिस ने उसे पीछे धकले दिया। 

मिली जानकारी के अनुसार मांढरे की माता के समीप बने मेडीकल ऑडिटोरियम के पीछे कई वर्ग मीटर जमीन राजकुमार कुकरेजा निवासी गोविंद पुरी कालोनी की थी। जिस पर रविंद्र सिंह भदौरिया ने जबरन कब्जा कर पक्का निर्माण कर लिया था। जिसमें दो मंजिला मकान तानने के साथ ही पक्की दुकानें और बेसमेंट भी तैयार कर इन्हे किराए पर उठा दिया गया था। 

अपनी ताकत के चलते वह किसी भी कीमत पर इसे खाली करने को तैयार नहीं था। यही नहीं बात करने पर वह लडऩे पर उतारू हो जाता था। जिस पर यह मामला न्यायालय में पहुंचा और राजू कुकरेजा के पक्ष में फैसला आया। इसके बाद भी भदौरिया ने अपना कब्जा हटाने से साफ इनकार कर दिया। यही नहीं कोर्ट के नोटिस को भी नहीं माना। 

जिस पर मंगलवार को कोर्ट के आदेश पर नगर निगम के मदाखलत अमला भारी पुलिसबल के साथ सुबह ही मौके पर पहुंच गया। जब इसकी जानकारी कब्जाधारी को लगी तो वह भी समर्थकों के साथ डटा, जिसके चलते पहले तो हालात तनावपूर्ण बने। लेकिन बाद में यहां बुल्डोजर चलाकर कब्जा हटा दिया गया और इस स्थान को राजकुमार कुकरेजा के सुपुर्द कर दिया गया।

कार्रवाई के दौरान नजूल तहसीलदार शिवानी पांडे, मदाखलत अधिकारी सतपाल सिंह चौहान, मदाखलत्र इंस्पेक्टर सुघर सिंह सहित निगम अमला व कंपू थाना पुलिसबल मौजूद रहा।