Loading...

डॉक्टरों को हर माह 1500 ओपीडी करना होंगी, नहीं तो वेतन कटेगा

भोपाल। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की मिशन संचालक छवि भारद्वाज ने एक सर्कुलर जारी किया है। इसके अनुसार सभी सरकारी डॉक्टरों को प्रतिमाह कम से कम 1500 ओपीडी करना होंगी। यदि वो ऐसा नहीं करेंगे तो उनका वेतन काट लिया जाएगा। 

भारतीय प्रशासनिक सेवा की अधिकारी छवि भारद्वाज मिशन संचालक, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन 8, अरेरा हिल्स, पुरानी जेल रोड भोपाल ने समस्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, मध्यप्रदेश के नाम सर्कुलर जारी किया है। लिखा है कि राष्ट्रीय शहरी स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत संचालित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर प्रतिमाह 1500 की ओ.पी.डी. किया जाना है। 

समीक्षा करने पर पाया गया कि अधिकांश शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों की मासिक ओ.पी.डी. बहुत ही कम है। जिन शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों मासिक ओ.पी.डी. 1500 से कम लगातार तीन माह तक होती है तो चौथे माह से उस शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर कार्यरत मेडिकल ऑफिसर के मासिक वेतन से प्रतिमाह मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा 10 प्रतिशत वेतन का कत्रौता कर शेष वेतन का भुगतान किया जायेगा​। 

यह कत्रौता जब तक जारी रखा जायेगा जब तक अनुबंध समाप्त नहीं हो जाता है एवं नये वित्तीय वर्ष हेतु अनुबंध का नवीनीकरण भी नहीं किया जायेगा। स्वास्थ्य संस्थाओं में कार्यरत मेडिकल ऑफिसर अपनी सेवायें शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के केचमेंट क्षेत्र (50000 या इससे अधिक जनसंख्या) में ही प्रदान करेंगे। उपरोक्त मेडिकल अधिकारी की डयूटी अन्य क्षेत्र मे न लगाये जावे।