पुलिस ने रिपोर्ट लिखाने आई पीड़िता को चरित्रहीन बताया, VIDEO वायरल

कानपुर। पुलिस थाने में छेड़छाड़ की शिकायत करने पहुंची युवती के चरित्र पर सवाल खड़ा करने के मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उप्र सरकार पर निशाना साधा है। प्रिंयका ने ट्वीट किया- छेड़खानी की रिपोर्ट लिखवाने गई युवती के साथ थाने में इस तरह का व्यवहार हो रहा है। जबकि महिलाओं को न्याय दिलाने की पहली सीढ़ी है, उनकी बात सुनना।

घटना कानपुर के नजीराबाद थाने की है। पीड़ित युवती छेड़छाड़ की शिकायत लेकर थाने पहुंची थीं। पुलिसवाले ने रिपोर्ट लिखने के बजाए युवती के चरित्र पर ही सवाल उठा दिए। घटना से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। बात सीनियर अधिकारियों तक पहुंची तो आरोपी पुलिसवाले को लाइन अटैच किया गया।

यह है मामला?
पीड़ित युवती कानपुर के नजीराबाद थाने में पानी भरने गई थी। इस दौरान मुहल्ले में रहने वाले तीन युवकों ने उसके साथ छेड़खानी की। युवती ने इस बात का विरोध किया तो उसकी पिटाई की गई। यह देख जब उसका भाई मदद के लिए पहुंचा तो दबंगों ने उसे भी मारा।

पीड़िता मां के साथ शिकायत करने थाने पहुंची। वहां मौजूद हेडकांस्टेबल तारबाबू ने पहले तो पीड़िता से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। इसके बाद कहा- ये चूड़ा, अंगूठी लॉकेट क्यों पहने हो? इतने आइटम पहनने की क्या जरूरत? जब तुम पढ़ाई नहीं करती तो इसकी क्या जरूरत? इससे क्या लाभ है? इसी से दिखाई देता है कि तुम क्या हो?