गर्लफ्रेड को वीडियो कॉल किया, कनपटी पर पिस्टल लगाई और गोली मार ली | PATNA SAMACHAR

पटना। प्रेमिका के घर से 200 मीटर की दूरी पर कार खड़ी कर पहले वीडियो कॉल किया और फिर कनपटी में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी प्रेमिका ने ही प्रेमी के दोस्त को फोन कर दी। ढाई साल पुराने प्यार में नए प्रेमी की दखल से दोनों के बीच तनाव बढ़ गया था, जो आत्महत्या का कारण बन गया। आत्महत्या करने वाला रूपक (22) पटेल नगर निवासी सैप जवान का बेटा था। वह बीएससी का छात्र था। बुद्धा कॉलोनी थाना क्षेत्र के श्रीकृष्णा नगर मोहल्ले के रोड नंबर सात में रविवार की सुबह हुई घटना में पुलिस जांच में जुटी है। 

दोस्तों ने बताई LOVE STORY

रूपक के दोस्तों का कहना है कि रूपक को श्री कृष्णानगर मोहल्ले की एक लड़की से प्यार हो गया था। दोस्तों का कहना है कि रास्ते में आते-जाते ही दोनों की मुलाकात हुई थी। इसके बाद रूपक अक्सर मोहल्ले में पार्क के पास आता-जाता था। इधर कुछ दिनों से दोनों के बीच कुछ विवाद चल रहा था। दोस्तों का कहना है कि लड़की दूसरे लड़के से बात करती थी, जिससे रूपक काफी आहत था। हाल ही में रूपक ने उस लड़के की पिटाई भी की थी। एक दोस्त ने बताया कि रूपक के आत्महत्या की जानकारी उसकी प्रेमिका ने फोन कर दी। बताया जा रहा है कि वह कार में लड़की को बुला रहा था, लेकिन वह नहीं आई।

सुबह करीब साढ़े सात बजे CAR लेकर निकला था घर से

22 वर्षीय रूपक पटेल नगर के निवासी सेना से रिटायर व झारखंड में सैप के जवान विजय कुमार का बेटा था। वह आरपीएस कॉलेज में बीएससी प्रथम वर्ष का छात्र था। रूपक के दोस्तों का कहना है कि रविवार की सुबह लगभग साढ़े सात बजे वह कार लेकर घर से निकला था। लगभग साढ़े आठ बजे वह श्री कृष्णानगर पार्क के पास कार खड़ी की और अपनी दायीं कनपटी में गोली मार ली। पार्क में खेल रहे बच्चों की बॉल जब कार के पास गई तो उन्होंने अंदर खून देखकर शोर मचाया। मोहल्ले के कांग्रेसी नेता संजीव कुमार टोनी ने लगभग साढ़े 11 बजे पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी के फुटेज भी खंगाले हैं, जिसमें गाड़ी के आसपास कोई नहीं दिखा है। पुलिस ने कार से कंट्री मेड पिस्टल और एक खोखे के साथ स्मार्टफोन बरामद किया है।

शाम तक स्टार्ट रही CAR, चलता रहा AC

रूपक ने जब खुद को गोली मारी उस वक्त कार का चारों दरवाजा लॉक था। इंजन चालू था और एसी भी चल रहा था। रविवार शाम लगभग साढ़े चार बजे तक इंजन स्टार्ट रहा और एसी भी चलता रहा। फॉरेंसिक जांच के बाद पुलिस ने शव को कार से बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

झारखंड में रहते हैं पिता, घर में था सबसे छोटा

घटना की जानकारी मिलते ही रूपक की मां और बहन ज्योति मौके पर पहुंच गईं। दोनों का रो-रो कर बुरा हाल था। पिता विजय कुमार झारखंड में हैं और बड़ा भाई इंजीनियर दीपक दिल्ली में। घटना की सूचना मिलते ही दीपक और उसके पिता पटना पहुंच गए। रूपक भाई बहन में सबसे छोटा था और उसे पूरा परिवार काफी प्यार करता था। घटना से हर कोई टूट गया है। घर वालों का कहना है कि प्रेम में आहत होने के बाद रूपक ने आत्महत्या की है।