Loading...

MP EDUCATION: प्राथमिक एवं माध्यमिक मूल्यांकन की प्रक्रिया में संशोधन

भोपाल। राज्य शिक्षा केन्द्र भोपाल के आदेशानुसार प्रदेश के सभी विद्यालयों में सतत् एवं व्यापक मूल्यांकन की प्रक्रिया में आंशिक संशोधन किया गया है। जिसके अनुसार अब छात्रों का यह मूल्यांकन कुल 07 माह ही किया जाएगा। सिर्फ 5वीं व 8वीं में अध्ययनरत बच्चों का त्रैमासिक मूल्यांकन सितंबर में होने से इन कक्षाओं का मासिक मूल्यांकन नही होगा। बल्कि त्रैमासिक मूल्यांकन होने से इन कक्षाओं का मूल्यांकन 6 माह का ही होगा। 

अब मासिक मूल्यांकन प्रश्नपत्र आधारित होगा। मासिक मूल्यांकन का अभिलेख शिक्षकों द्वारा सुरक्षित रखा जाएगा। मासिक मूल्यांकन प्रक्रिया को सुदृढ बनाने हेतु एक प्रश्न बैंक एजुकेशन पोर्टल पर उपलब्ध कराया जा रहा है। मासिक मूल्यांकन के पश्चात छात्रों द्वारा जो उत्तर नही दिए गए हैं उन लर्निंग गैप्स की पहचान की जाएगी। अन्य जानकारी संदर्भित आदेशानुसार प्राप्त की जा सकती है जिसे सभी शासकीय शालाओं में प्रेषित कराया जा रहा है। 

कक्षा 5 व 8 में इस वर्ष से वार्षिक मूल्यांकन अब कहलाएगा वार्षिक परीक्षा 

विगत वर्षो में कक्षा 1 से 8 तक सतत एवं व्यापक मूल्यांकन का प्रावधान था परन्तु अब नवीन आदेशानुसार कक्षा 5 व 8 में परीक्षा होगी जिसे वार्षिक परीक्षा कहा जाएगा। राज्य शिक्षा केन्द्र भोपाल के आदेशानुसार यह परीक्षा माह फरवरी अथवा मार्च में आयोजित की जाएगी। परन्तु इस बोर्ड परीक्षा नही कहा जाएगा। यह परीक्षा पूर्व की भांति संकुल केन्द्र प्रभारियों द्वारा ही सम्पादित कराई जाएगी। परन्तु उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन विकासखण्ड परिवर्तित कर दूसरे संकुल केन्द्र स्तर पर ही होगा। 

स्कूल में प्रारंभिक शिक्षा पूर्व होने तक किसी बच्चे को स्कूल से निष्काषित नही किया जाएगा। यह संशोधन अशासकीय शालाओं एवं अनुदान प्राप्त शालाओं में होने वाली 5वीं व 8वीं की परीक्षाओं पर भी लागू होगा। इन सबसे संबंधित निर्देश शीघ्र ही विद्यालयों में पहुंचाए जा रहे हैं।