Loading...

JABALPUR NEWS : बेटी की शादी का कर्ज चुकाने किसान ने जान दी फिर भी सूदखोरों के चंगुल से ना बचा परिवार

जबलपुर। बेटी की शादी के लिए रकम उधार देकर सूदखोर कटंगी निवासी किसान विनोद मिश्रा की जमीन हड़पना चाहते थे। जमीन हड़पने की साजिश के चलते सूदखोरों ने कई बार शारीरिक व मानसिक प्रताड़ना दी, जिससे तंग आकर किसान ने आत्महत्या कर ली थी। विवेचना उपरांत कटंगी पुलिस ने दो आरोपितों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

इस संबंध में परिजन ने बताया कि घटेरा कटंगी निवासी विनोद मिश्रा (Vinod Mishra) ने बेटी की शादी (Daughter's marriage) के लिए 28 जून 2018 को निखिल सोनी(Nikhil Soni), द्वारका सोनी (Dwarka Soni) से 1 लाख रुपए ब्याज पर उधार लिए थे। रकम देते समय दोनों ने विनोद मिश्रा से उनकी 2 एकड़ भूमि का बेचनामा तैयार कर उस पर धोखे से हस्ताक्षर करा लिए थे। उधार ली गई रकम का काफी हिस्सा ब्याज सहित चुकाने के बाद भी बेचनामा दस्तावेज दिखाकर सूदखोर जमीन हड़पना चाहते थे। 18 मई 2019 को निखिल सोनी का कर्मचारी पुन्ना सिंह घटेरा पहुंचा और निखिल सोनी ने बुलाया है बताकर विनोद मिश्रा को साथ ले गया। जहां दोनों ने विनोद मिश्रा के साथ गाली गलौज करते हुए बेइज्जती की। उसी रात विनोद ने जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। उपचार के दौरान 19 मई को उनकी मौत हो गई।

मृतक विनोद मिश्रा की पत्नी माया बाई (MAYA BAI) ने बताया कि पति की मौत के एक माह बाद 14 जून को निखिल सोनी ने अधिवक्ता के माध्यम से नोटिस भेजा, जिसमें पति की दो एकड़ जमीन नाम कराने की बात लिखी गई थी। जिसकी शिकायत उन्होंने पुलिस अधीक्षक अमित सिंह से की थी।

कटंगी पुलिस ने बताया कि विनोद मिश्रा की आत्महत्या मामले की जांच उपरांत यह जानकारी सामने आई है कि निखिल सोनी और पुन्ना सिंह लोधी उधारी के रुपयों की मांग एवं जमीन की रजिस्ट्री के लिए विनोद को शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित करते थे, जिसके चलते उन्होंने आत्महत्या कर ली थी। दोनों आरोपितों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है।