कांग्रेस से डाकू भी डरते हैं: डकैती डालने आए थे, खाली हाथ लौट गए | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। सत्ता में आने का फायदा पार्टी के नेताओं को कहां-कहां नहीं मिलता। कांग्रेस नेता अनूप कुशवाह के यहां एक गिरोह डकैती डालने आया था। उनके पास पक्की सूचना थी कि घर में करीब 50 लाख रुपए नगदी और जेवर हैं। लास्ट मिनट में उन्होंने अपनी प्लानिंग बदल दी और कांग्रेस नेता के पास रहने वाले मैकेनिक के यहां लूट करके चले गए। 

मुक्की गैंग लूट के साथ रेप भी कर चुका है

सेंट्रल जेल में दोस्त बने मुखबिर व कांग्रेस नेता के पड़ोसी सामिन ने अनूप के घर हर समय 45 से 50 लाख रुपए और आधा करोड़ के गहने रखे होने की सूचना दी थी। मुक्की गैंग कांग्रेस नेता अनूप कुशवाह के घर को निशाना बनाकर डकैती डालने निकला था। पर राजनीतिक ताकत से घबराकर बीच रास्ते में प्लान बदलकर मैकेनिक के घर में घुस गए। जिस दिन डकैती की वारदात हुई उस दिन कांग्रेस नेता की बेटी की सगाई थी और परिवार शहर के एक होटल में था। पूछताछ में ये भी पता चला कि गिरोह के तीन सदस्य महलगांव में लूट के दौरान महिला से सामूहिक दुष्कर्म भी कर चुके हैं।

8-9 जुलाई की रात लूट की थी

बता दें कि गिरवाई के वीरपुर बांध क्षेत्र में 8-9 जुलाई की रात गाड़ी मैकेनिक अफसर खान के घर में आधी रात डकैती की वारदात हुई थी। 4 से 5 बदमाश अंदर आए और अफसर खान के मासूम बच्चों पर कट्टा तानकर पूरे परिवार को बंधक बनाकर नगदी, जेवरात लूटकर ले गए थे। इस मामले से पहले शहर में इसी तरह की दो घटनाएं होने से हड़कंप मच गया।

पुराना डाटा पुलिस के काम आया

सीएसपी समीर सौरभ ने मामले की जांच विस्तार से शुरू की। गिरवाई थाना प्रभारी देवेन्द्र सिंह व महिला आरक्षक अर्चना कंषाना को साथ लेकर वे घटनास्थल पहुंचे। जब महिला आरक्षक अर्चना ने परिवार से बात की और लुटेरों का हुलिया व बोल चाल के बारे में पूछताछ की तो उसे कुछ पुराने बदमाशों पर संदेह हुआ। जिन बदमाशों पर वह संदेह कर रही थी वह पहले विश्वविद्यालय व झांसी रोड थानाक्षेत्र में चोरी, लूट व गैंगरेप की घटनाओं को अंजाम दे चुके थे। जब उनकी जानकारी जुटाई तो पता लगा कि गैंग का मुखिया मुक्की उर्फ मुकेश पाल घटना से 8 दिन पहले 1 जुलाई को सेंट्रल जेल से छूटा है। जबकि अन्य सदस्य भी 15 से 20 दिन पहले बाहर आए हैं। इसके बाद इनकी तलाश शुरू की।

दूसरी डकैती डालने निकले थे, तभी पकड़े गए

इसी बीच सूचना मिली कि रविवार-सोमवार की रात एबी रोड पर देव गैस गोदाम के पास 6 बदमाशों को देखा गया है। जिनके पास कट्टे, सरिया हैं। जिस पर सीएसपी समीर सौरभ की टीम महिला आरक्षक अर्चना कंषाना, गिरवाई पुलिस व क्राइम ब्रांच ने घेराबंदी कर दबिश दी। जिसमें 4 बदमाशों को पकड़ा गया। जबकि दो फरार हो गए। पकड़े गए बदमाशों को लाकर पूछताछ की तो मैकेनिक अफसर खान के यहां डकैती की वारदात कबूल की है।

ये हैं गिरोह के सदस्य

पकड़े गए बदमाशों की पहचान गिरोह के सरगना मुक्की उर्फ मुकेश पाल (30) निवासी करौली माता महलगांव, सामिन उर्फ समीर खान (20) निवासी भारत की चक्की वीरपुर बांध, गोलू उर्फ भगवान परिहार (21) निवासी करौली महलगांव, शाहरुख खान (22) निवासी मगरोनी करहिया हाल निवासी गुड़ा गुड़ी मरघट के पास माधवगंज के रूप में हुई है। जबकि भागने वाले दीपक रजक निवासी दतिया, इरसाद खान निवासी घाटीगांव हैं। इनके पास से कट्टे, सरिया, चाकू मिले हैं।

जेल में खरगा गैंग बनी मुक्की गैंग

पकड़ा गया गिरोह रोहित खरगा नामक बदमाश का है। जो अभी जेल में बंद है। सेंट्रल जेल में सजा काटने के दौरान मुक्की उर्फ मुकेश पाल ने गैंग को कब्जे में लिया और यह मुक्की गैंग बन गया। जेल में ही चोरी के मामले में बंद वीरपुर निवासी सामिन गैंग से मिला। सामिन ने जेल में ही बताया कि वीरपुर बांध में अनूप कुशवाह रहता है। वह जिला ग्रामीण कांग्रेस में महामंत्री है। उनकी पत्नी ममता कुशवाह जिला ग्रामीण अध्यक्ष है। इनके घर हमेशा 45 से 50 लाख रुपए रहते हैं। 50 लाख की ज्वेलरी आम बात है। साथ ही उनके पास रहने वाले गाड़ी मैकेनिक अफसर खान का भी घर का ठिकाना बताया। उसके यहां 3 से 4 लाख रुपए मिलने की संभावना जताई।

8 दिन पहले जेल से छूटा, डाली डकैती

बीते 45 दिन में गैंग के सभी 6 सदस्य बाहर आ चुके थे। बस मास्टर माइंड मुक्की रह गया था। 1 जुलाई को मुक्की के बाहर आते ही डकैती की योजना बनाई गई। 8 जुलाई को कांग्रेस नेता की बेटी की सगाई का कार्यक्रम शहर के एक होटल से था। पूरा परिवार वहीं था। 8-9 जुलाई की रात गिरोह वारदात के लिए निकला। पर मुक्की बीच में ही डर गया। उसे पता लगा कि कांग्रेस नेता के घर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं और वह पावर में भी है। इसलिए उसका घर छोड़ मैकेनिक के घर पहुंचे और वारदात की।

बदमाशों पर कितने मामले दर्ज

- मुक्की पाल- 12वीं पास है। विश्वविद्यालय में वर्ष 2017 में एक महिला के घर लूटपाट के साथ अपने साथी दीपक, रोहित खरगा, गोलू परिहार के साथ मिलकर सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। साथ ही 15 आपराधिक मामले लूट, चोरी के विश्वविद्यालय, झांसी रोड थाने में दर्ज हैं।
- गोलू परिहार - 12वीं फेल है। विश्वविद्यालय और झांसी रोड क्षेत्र में लूट, चोरी व सामूहिक दुष्कर्म सहित 6 मामले दर्ज।
- सामिन - झांसी रोड थाने में डकैती का एक मामला दर्ज।
- शाहरुख खान - अभी तक कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं मिला है।