Loading...

भाजपा विधायक पर रेप की FIR कराने वाली लड़की को ट्रक ने कुचला, 2 महिलाओं मौत | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कराने वाली पीड़ित लड़की को एक ट्रक ने कुचल डाला, वो गंभीर रूप से घायल है। नंबर प्लेट पर ग्रीस पोतकर आए एक ट्रक ने उस कार को टक्कर मारी जिसमें पीड़िता, उनका वकील और पीड़िता की चाची मौजूद थीं। चाची की मौके पर ही मौत हो गई जबकि खबर आ रही है कि पीड़िता अस्पताल में गंभीर स्थिति में है। वकील की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस इसे एक्सीडेंट कह रही है जबकि यूपी की मीडिया और विपक्षी पार्टियों के नेता इसे साजिश के तहत की गई हत्या बता रहे हैं। 

यह घटना रायबरेली में हुई है। उल्लेखनीय है कि इसी दुष्कर्म मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर जेल में बंद हैं। दिन में करीब एक बजे तेज बारिश हो रही थी। इसी दौरान लालगंज की ओर से जा रहे ट्रक और रायबरेली जा रही सफेद रंग की कार में टक्कर मारी। पीड़िता के चाचा रायबरेली जेल में एक अलग मामले में बंद हैं। रविवार को ये सभी लोग उनसे मिलने जा रहे थे। तभी एक तीखे मोड़ पर हुई टक्कर में कार के परखच्चे उड़ गए।

ट्रक के नंबर पर पोती गई थी ग्रीस


ट्रक का नंबर यूपी 71 एटी 8300 है, लेकिन आगे-पीछे लगे नंबर प्लेट को दोनों ओर ग्रीस से पोता गया था, ताकि नंबर छिपा रहे। यही कारण है कि इस मामले को संदेह की नजर से देखा जा रहा है और घटना को हत्या करार दिया जा रहा है। ट्रक के ड्राइवर और उसके मालिक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

फतेहपुर का है ड्राइवर

ट्रक का ड्राइवर देर शाम पुलिस के हत्थे चढ़ गया। थानाध्यक्ष राकेश सिंह ने बताया कि फतेहपुर का आशीष पाल ट्रक चला रहा था। उसकी उम्र करीब 25 साल है। जब उनसे पूछा गया कि क्या उसने शराब पी रखी थी, तो उन्होंने कहा कि घटना के काफी देर बाद मिला है। ऐसा कुछ लगा नहीं। यह पूछने पर कि उसे कहां से पकड़ा गया, इतने में उनका मोबाइल बंद हो गया।

एसपी बोले, दुर्घटना लग रही है

एसपी सुनील कुमार सिंह मौके पर छानबीन कर रहे थे। जब उनसे सवाल हुआ कि घटना के पीछे कोई वजह? उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया तो यह सड़क दुर्घटना लग रही है। कारणों की जांच करने के लिए एक्सपर्ट टीम लखनऊ से आ रही है। उसके बाद ही स्थिति साफ हो सकेगी। मामले की छानबीन के लिए फॉरेंसिक टीम को बुलाया गया है।

हादसे की सीबीआई जांच हो : अखिलेश

उन्नाव की दुष्कर्म पीड़िता व उसके परिजनों के वाहन से ट्रक टकराने को बड़ी साजिश बताते हुए समाजवादी पार्टी ने सीबीआई जांच की मांग की है। एक बयान में अखिलेश यादव ने कहा कि दुष्कर्म पीड़िता के साथ रायबरेली जाते समय हुआ हादसा गंभीर घटना है। इसके पीछे उसकी हत्या करने की आशंका भी हो सकती है।

पीड़ित लड़की के पिता की हत्या पहले ही हो गई थी

रेप केस लड़ रहे लड़की के पिता की मौत हो चुकी है। उन्हें पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया था और कुलदीप सिंह सेंगर के भाई ने उनकी जमकर पिटाई की थी, जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी। इस मामले में दुष्कर्म पीड़िता ने पिछले साल 8 अप्रैल को न्याय की गुहार लगाते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के घर के बार आत्मदाह करने की कोशिश की थी। इसके बाद यह मामला देशभर में सुर्खियों में छा गया था।