Loading...

CAMPION SCHOOL: 8 छात्रों ने गैंग बनाकर 9वीं के छात्र को पीटा

भोपाल। कैंपियन स्कूल में नौवीं क्लास के छात्र के साथ आठ छात्रों ने बेल्ट से जमकर मारपीट कर दी। पीड़ित को गंभीर चोटें आई हैं। मामले की शिकायत हबीबगंज थाने में की गई है, लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं हुई है। घटना के बाद स्कूल प्रबंधन ने चार छात्रों को 10 दिन तो पीड़ित छात्र को गाली-गलौज के चलते 06 दिन के लिए निलंबित किया गया है। वहीं मारपीट में शामिल आठ में चार अन्य छात्र बुलाने पर भी सोमवार को स्कूल नहीं गए। स्कूल पहुंचे चार छात्रों और पीड़ित के अभिभावकों से माफीनामा लिखाकर मामले का समाधान किया गया।

जानकारी के मुताबिक विशाल येवतीकर, 1100 क्वार्टर में रहते हैं। वह 7वीं बटालियन में पुलिस कांस्टेबल हैं। उनका बेटा शाहपुरा स्थित कैंपियन स्कूल में नौवीं कक्षा में पढ़ता है। बीते गुरुवार को बेटा स्कूल गया था। दोपहर में एक छात्र ने उसका लंच बॉक्स छिपा दिया। इसी बात को लेकर उसकी उसकी कक्षा के एक छात्र से बहस हो गई थी। स्कूल से छुट्टी होने पर सभी अपने-अपने घर चले गए।

शुक्रवार को घेरकर पीटा

अगले दिन शुक्रवार को विशाल का बेटा स्कूल ग्राउंड में खेल रहा था। इसी दौरान लंच बॉक्स छिपाने वाला छात्र अन्य सात छात्रों के साथ उसके पहुंचा। ग्राउंड एक कोने में आठ छात्रों ने उसे घेरकर बेल्ट व हाथों से पीटा। घर पहुंचने पर उसकी बुरी हालत देखकर परिजन स्कूल पहुंच गए। बच्चे की पिटाई देख प्रबंधन ने अगले दिन शनिवार को मारपीट करने वाले छात्रों और पीड़ित छात्र को स्कूल बुलाया। शनिवार को बच्चों के माता-पिता नहीं पहुंचे। इस पर प्रबंधन ने सोमवार को सभी को दोबारा बुलाया। सोमवार को चार बच्चों के ही अभिभावक स्कूल पहुंचे। स्कूल प्रबंधन ने इन चार छात्रों को दस दिन के लिए निलंबित कर दिया है। वही, जिस छात्र के साथ मारपीट हुई, उसे भी गाली-गलौज करने पर छह दिन के लिए निलंबित किया गया है।

विशाल येवतीकर, पीड़ित छात्र के पिता ने कहा कि अभिभावकों ने बच्चों की तरफ से माफी मांगते हुए आगे से ऐसा काम नहीं करने का भरोसा दिया है। बच्चों के भविष्य को देखते हुए पुलिस में एफआईआर नहीं कराई है। फादर एथेनस, प्राचार्य कैंपियन स्कूल ने बताया कि बच्चों के अभिभावकों को बुलाकर आमने- सामने बात कराकर एक-दूसरे से माफी मंगवाई गई। पीड़ित छात्र के परिजनों की शिकायत का समाधान हो गया है।