Loading...

बिल्डर चांद होतवानी के खिलाफ किसान को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज | BHOPAL NEWS

भोपाल बिल्डर चांद होतवानी (BUILDER CHAND HOTWANI) के पार्टनर किसान देवकरण मीणा की मौत का रहस्य सुलझ गया है। देवकरण मीणा ने सुसाइड किया था। मीणा के खिलाफ EOW में सरकारी जमीन को बेचने का मामला दर्ज हुआ था। मीणा इससे डर गए और सुसाइड कर लिया। पुलिस का कहना है कि बिल्डर चांद होतवानी ने साजिश के तहत मीणा को इस जाल में फंसा दिया था। कोलार पुलिस ने इस मामले में बिल्डर के खिलाफ खुदकुशी के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है। 

ग्राम बैरागढ़ चीचली निवासी 62 वर्षीय देवकरण मीणा बीती 13 मई की रात घर से केरी बीनने अपने खेत पर गए थे। सुबह उनका शव उसी आम के पेड़ पर लटका मिला। उनकी धोती में बंधे कागज में लिखा था कि चांद होतवानी मेरी मौत का जिम्मेदार है। जांच में पता चला कि देवकरण के खिलाफ ईओडब्ल्यू में धोखाधड़ी का केस दर्ज है। 

उन पर शासकीय भूमि को बेचने का आरोप लगा है। चांद ने उक्त जमीन की पावर ऑफ अटॉर्नी देवकरण को दे दी थी। मामले की विवेचना के दौरान जांच एजेंसी ने देवकरण को पूछताछ के लिए नोटिस भी जारी किए थे। इसी वजह से वे तनाव में रहने लगे थे। परिजनों के बयान और सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने होतवानी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। 
विस्तृत खबर के लिए कृपया यहां क्लिक करें