Loading...

सचिन तेंदुलकर वर्ल्ड कप में कुल कितने शतक मारे, जानिए क्या रिकॉर्ड बनाया | WORLD CUP RECORDS

भारत में क्रिकेट की चर्चा हो और सचिन तेंदुलकर (SACHIN TENDULKAR) का नाम ना आए ऐसा हो ही नहीं सकता। लोग आज भी जानना चाहते हैं कि वर्ल्ड कप (WORLD CUP) में सचिन तेंदुलकर के नाम कौन सा रिकॉर्ड (RECORD) दर्ज है। हम यहां आपको बड़ी रोचक जानकारी बताने जा रहे हैं। इससे पहले यह भी जान लें कि 1975 से 2015 तक 11 बार वर्ल्ड कप खेला जा चुका है और इनमें कुल 165 शतक (CENTURY) जड़े गए हैं और 6 शतकों के साथ भारत के सचिन तेंदुलकर नंबर 1 (NUMBER 1) पर स्थापित हैं। अब तक 6 से ज्यादा शतक (HIGHEST CENTURY) किसी ने नहीं मारे। 

1. 1996 वर्ल्ड कप: कटक में केन्या के खिलाफ 127 नॉट आउट (138 बॉल) 

सचिन ने 1996 में केन्या के खिलाफ 127 रन नॉट आउट बनाने के साथ जीत का अभियान शुरू किया था। अजय जडेजा के साथ ओपनिंग पारी शुरू करने वाले सचिन ने पहले विकेट की साझेदारी में 163 रन जोड़े और कटक में 200 रन के कम लक्ष्य वाले मैच की मजबूत नींव रखी। भारत ने यह मैच 7 विकेट से जीता। 

2.1996 वर्ल्ड कप: दिल्ली में श्रीलंका के खिलाफ 137 रन (137 बॉल) 

सचिन ने 1996 वर्ल्ड कप में श्रीलंका के खिलाफ अपनी दूसरी सेंचुरी बनाई। सचिन ने 137 गेंदों में 137 रन जड़े। तीसरे विकेट के लिए उन्होंने मोहम्मद अजहरुद्दीन (72 नॉट आउट) के साथ मिलकर 175 रन जोड़े। इस साझेदारी की बदौलत भारत ने 271/3 का स्कोर हासिल किया। लेकिन सनथ जयसूर्या (79) और हसन तिलकरत्ने (70 नॉट आउट) की अर्द्धशतकों के चलते श्रीलंका ने 48.4 ओवर में 6 विकेट से मैच जीत लिया। 

3. 1999 वर्ल्ड कप: ब्रिस्टल में केन्या के खिलाफ 140 नॉट आउट (101 बॉल) 

1999 में सचिन ने वर्ल्ड कप का तीसरा शतक केन्या के खिलाफ बनाया। इस मैच में सचिन ने 140 रन नॉट आउट बनाए। उन्होंने राहुल द्रविड़ (104 नॉट आउट) के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 237 रन की रेकॉर्ड साझेदारी की। इस साझेदारी के साथ भारत ने 329/2 का टारगेट सेट किया। इसके बाद गेंदबाजों ने अफ्रीकी टीम को 235/7 पर रोक दिया। 

4. 2003 वर्ल्ड कप: पीटरमरिट्जबर्ग में नामीबिया के खिलाफ 152 रन (152 बॉल) 

वर्ल्ड कप के चौथे शतक की बात करें तो सचिन ने इस बार टीम के साथइयों के साथ रेकॉर्ड साझेदारी की। नामीबिया के खिलाफ सचिन ने 152 रन बनाए और सौरव गांगुली (112 रन) के साथ दूसरे विकेट की साझेदारी के लिए 244 रन जोड़े। भारत ने कुल 311/2 रन का लक्ष्य दिया। नामीबिया की टीम कुल 130 रन पर ढेर हो गई और भारत ने 181 रन से जीत हासिल की। 

5.2011 वर्ल्ड कप: बेंगलुरू में इंग्लैंड के खिलाफ 120 रन (115 गेंद) 

इंग्लैंड के खिलाफ एक नाटकीय मैच में सचिन ने 5वां वर्ल्ड कप शतक जड़ा। सचिन ने दूसरे विकेट के लिए गौतम गंभीर के साथ 134 रन की साझेदारी की। सचिन ने कुल 120 रन जबकि गंभीर ने 51 रन बनाए। भारत ने कुल 338 रन का टारगेट दिया। इस विशाल टारगेट का पीछा करते हुए, इंग्लैंड के ओपनर एंड्र्यू स्ट्रॉस ने अपने करियर का सबसे बेस्ट स्कोर 158 रन बनाए। इंग्लैंड ने 50 ओवर में 338/8 रन बनाए और मैच टाई हो गया। वर्ल्ड कप के इतिहास में यह चौथा मैच था जो टाई हुआ। 

6. 2011 वर्ल्ड कप: नागपुर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 111 रन (101 गेंद) 

अपने ओपनिंग पार्टनर वीरेंद्र सहवाग (73 रन) के साथ सचिन ने भारत को तेज शुरुआत दी। भारत ने सिर्फ 17.4 ओवर में 142 रन बना दिए। सचिन ने 111 रन की तेजतर्रार पारी खेली। इसके बाद भारतीय बल्लेबाजी दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज डेन स्टेन के आगे नहीं टिक पाई। बैटिंग ऑर्डर ढह गया और आखिरी 8 विकेट 9 ओवर में 29 रन ही बना पाए। भारत ने कुल 296 रन का टारगेट दिया। दक्षिण अफ्रीकी टीम ने 3 विकेट से मैच जीत लिया।