Loading...

शिवराज सिंह चौहान: एक बार फिर मध्यप्रदेश से बाहर धकेलने की कोशिश | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा में 'अंगद के पांव' शिवराज सिंह चौहान (SHIVRAJ SINGH CHOUHAN) को एक बार फिर मध्यप्रदेश (MADHYA PRADESH) से हिलाने यानी बाहर निकालने की कोशिश की गई है। लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा में एक बार फिर शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ लामबंदी तेज हो गई है। इस बार शिवराज सिंह को भाजपा के राष्ट्रीय सदस्यता अभियान का प्रमुख बनाया गया है। 

बता दें कि आज दिल्ली में बीजेपी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक आयोजित की गई थी। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, सुहास भगत के साथ मीटिंग में शामिल होने गए थे। इसी बैठक में शिवराज सिंह चौहान को नई भूमिका के लिए तय किया गया। हालांकि प्रचारित किया जा रहा है कि राष्ट्रीय सदस्यता अभियान का प्रमुख बनाकर शिवराज सिंह को एक बड़ा अवसर दिया गया है। इस तरह वो मैन स्ट्रीम में आ गए हैं। 

मध्यप्रदेश को शिवराज मुक्त करने की कोशिश

बता दें कि भाजपा में मध्यप्रदेश को शिवराज सिंह मुक्त करने की कोशिशें लगातार जारी हैं। मानें या ना मानें भाजपा का 109 सीट पर सिमटना भ इसी अभियान का हिस्सा था। भाजपा के लगभग सभी गुट यह चाहते हैं कि शिवराज सिंह का उपयोग अब देश के उन हिस्सों में किया जाए जहां भाजपा कमजोर है। जैसे कैलाश विजयवर्गीय को पश्चिम बंगला में भेजकर किया गया।