Loading...

GWALIOR NEWS | सेक्स रैकेट सरगना एवं भाजपा नेता गिरफ्तार

ग्वालियर। ग्वालियर पुलिस (Gwalior police) का कहना है कि गेस्ट हाउस की आड़ में सेक्स व्यापार (Sex business) चलाने वाला सरगना बृजेश तोमर (Brajesh Tomar) पकड़ा गया है पुलिस के शिकंजे में फेसने पर मास्टरमाइंड ने राजनीतिक रसूख दिखाने की कोशिश भी की उसने पुलिस को बताया कि वह तो भिड़ौसा, मुरैना जनपद सदस्य है। राजनीति करता है इस धंधे से उसका ताल्लुक नहीं है लेकिन उसके गुर्गे श्यामू और शैलू (Shyamu and Shalu) को सामने खड़ा किया तो सरगना की बोलती बंद हो गई। दोनों दलालों ने खुलासा किया कि वह बृजेश के रिश्तेदार है। बृजेश तोमर के इशारे पर ही दोनों दलाल सेक्स का व्यापार चला रहे थे। 

3 महीने पहले बृजेश तोमर ने इस धंधे को जमाने के लिए गेस्ट हाऊस शुरू किया था। वह भरोसा दिलाता था कि बेधडक़ होकर धंधा करो कभी पकड़े जाओगे तो वह बचा लेगा। आरोपी बृजेश तोमर को पुलिस ने एक दिन की रिमांड पर लिया है और उससे पूछा जा रहा है कि सेक्स व्यापार में युवतियों का इंतजाम कहां से और किन लोगों के जरिए करता है। उधर गेस्ट हाउस से पकड़ी गईं तीनों कॉलगर्ल और दलालों को रविवार को कोर्ट में पेश कर पुलिस ने जेल भेज दिया है।

रात को पुलिस ठिकाने से उठा लाई

पुलिस ने बताया कि बृजेश तोमर निवासी भिडौसा, को पता चल गया था गेस्ट हाउस में सेक्स का धंधा पकड़ा गया है तो वह लग्जरी कार से भागने की फिराक में था। उसे रात को पुलिस ठिकाने से उठा लाई। बचने के लिए आरोपी बृजेश कई कहानियां सुना चुका है। वह सफाई दे रहा है कि सेक्स व्यापार से उसका कोई संबंध नही है वह तो गांव में रहता है। बृजेश ने बताया यहां स्टाफ क्या करता था उसे नहीं पता क्यों कि भिडौसा जनपद सदस्य है। वहां राजनीति करता है उसमें व्यस्त रहने की वजह से गेस्ट हाउस पर ध्यान देने का समय नहीं था लेकिन उसकी बातों पर भरोसा नहीं किया जा रहा है क्योंकि गेस्ट हाउस पर कॉलगर्ल के साथ पकड़ दोनों दलाल शैलू तोमर और श्यामू तोमर ने खुलासा किया है कि बृजेश उनका चाचा है।