Loading...

D.L.Ed. एडमिशन के लिए काउंसलिंग शुरू | MP NEWS

भोपाल। बीएड-एमएड कोर्स केबाद अब उच्च शिक्षा विभाग ने डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन (डीईएलएड) पाठ्यक्रम में दाखिले की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी है। काउंसलिंग तीन चरणों में रखी है। इसमें पहले चरण के पंजीयन सोमवार से शुरू हो गए हैं। विद्यार्थी 30 जून तक आवेदन कर सकते हैं। प्रदेशभर में लगभग 45 हजार सीटें हैं। इसमें अकेले इंदौर के 20 कॉलेज की दो हजार सीटों पर एडमिशन होंगे।

विभाग ने काउंसलिंग का पहला चरण 17 जून से 17 जुलाई तक रखा है। इसमें पंजीयन, च्वाइंस फिलिंग, डॉक्यूमेंट वेरीफिकेशन, मेरिट लिस्ट और सीट अलॉटमेंट की प्रक्रिया होगी। बीएड कॉलेज एसोसिएशन के पदाधिकारी रामबाबू शर्मा और गिरधर नागर का कहना है कि प्रदेशभर में करीब 700 कॉलेजों से डीईएलएड कोर्स संचालित होता है। काउंसलिंग 17 जून से 31 अगस्त तक चलेगी। इसमें तीन राउंड रखे हैं। उन्होंने कहा कि स्कूली शिक्षा की दृष्टि से डीईएलएड काफी महत्वपूर्ण है। यही वजह है कि नौकरी पर रहते हुए ज्यादातर सरकारी और निजी स्कूलों के शिक्षक कोर्स करने में दिलचस्पी दिखाते हैं। नियुक्ति के लिए कोर्स अनिवार्य हो चुका है।

बीएड कोर्स में 20 % सीटें खाली, अतिरिक्त चरण की मांग

बीएड कोर्स में दाखिले को लेकर काउंसलिंग खत्म हो चुकी है। तीसरी अलॉटमेंट सूची के बावजूद प्रदेशभर में बीएड की लगभग 20 फीसदी यानी 10 हजार सीटें खाली हैं। इंदौर के कॉलेजों की स्थिति बेहतर है। भोपाल, ग्वालियर और सतना के कॉलेजों में काफी सीटों पर विद्यार्थियों ने प्रवेश नहीं लिया है। फिलहाल 21 जून तक विद्यार्थियों को फीस जमा करना है। बीएड कॉलेज एसोसिएशन के पदाधिकारी रवि भदौरिया और अभय पांडे ने कहा कि सीएलसी राउंड को लेकर विभाग स्थिति स्पष्ट नहीं कर रहा है। इसके चलते एसोसिएशन ने ऑनलाइन काउंसलिंग में अतिरिक्त चरण की मांग रखी है।