Loading...

हबीबगंज स्टेशन को वर्ल्ड क्लास बना रही ऐजेंसी ने अरेरा कालोनी को तालाब बनाने की साजिश रच डाली | BHOPAL NEWS

भोपाल। हबीबगंज रेलवे स्टेशन को वर्ल्ड क्लास बनाने के लिए निर्माण कार्य कर रही ऐजेंसी ने अरेरा कालोनी को तालाब बनाने की साजिश रच डाली। ऐजेंसी ने बिना किसी अनुमति के अरेरा कॉलोनी का नाला बंद कर दिया। कोई वैकल्पिक प्रबंध भी नहीं किए। सतीश नायक की याचिका पर इस मामले का खुलासा हुआ।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की मंजूरी के बिना निर्माण कार्य चालू कर दिया

हबीबगंज रेलवे स्टेशन को वर्ल्ड क्लास बनाने के लिए हो रहा पुनर्निर्माण काम पिछले दो साल से प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की मंजूरी के बिना ही किया जा रहा था। एनजीटी की आपत्ति के बाद निर्माण एजेंसी ने अप्रैल 2019 में प्रदूषण बोर्ड से मंजूरी ली है। सोमवार को एनजीटी की प्रिंसिपल बेंच में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इस केस की सुनवाई के दौरान यह जानकारी सामने आई है।

आसपास के इलाकों में एंबिएंट एयर क्वालिटी काफी खराब हो गई

निर्माण एजेंसी की ओर से एनजीटी में दाखिल किए गए जवाब में स्वीकार किया गया है कि उसने सिर्फ एक माह पहले यानी अप्रैल 2019 में प्रदूषण बोर्ड से स्वीकृति ली है। हबीबगंज रेलवे स्टेशन के निर्माण के लिए पिछले दो साल से चल रहे खुदाई और पुराने स्ट्रक्चर के डिमोलिएशन के कारण भारी मात्रा में डस्ट (धूल) पैदा हो रही थी, इसके नियंत्रण के कोई प्रयास नहीं किए जाने से आसपास के इलाकों में एंबिएंट एयर क्वालिटी काफी खराब हो गई थी। धूल से हो रहे प्रदूषण के कारण सड़कों से लेकर आसपास के रहवासी क्षेत्रों में भी डस्ट जमा हो रही थी।

नाला बंद करने से अरेरा कॉलोनी में हो सकता है जल भराव 

निर्माण एजेंसी की ओर से अरेरा कॉलोनी का नाला बंद किए जाने के मामले में भी लिखित जबाव पेश किया गया है, जिस पर अगली सुनवाई के दौरान बहस होगी। स्थानीय निवासी सतीश नायक की ओर से दायर इस याचिका में बारिश से पहले नाला बंद किए जाने पर सख्त आपत्ति जताई गई है। याचिका में कहा गया है कि जलनिकासी का वैकल्पिक इंतजाम किए बिना नाला बंद किए जाने से बारिश के दौरान अरेरा कॉलोनी क्षेत्र में जलभराव की स्थिति बन सकती है।