Loading...

AGRICULTURE COLLEGE के छात्रों ने की अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। कृषि महाविद्यालय (Agriculture College) के तीन छात्र अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल (Indefinite hunger strike) पर सोमवार को बैठ गए। छात्रों की मांग है कि कृषि महाविद्यालय में बाहरी छात्रों का प्रवेश बंद किया जाए। जब तक इस पर कोई निर्णय या ठोस आश्वासन नहीं मिलता है तब तक वह भूख हड़ताल पर रहेंगे।

छात्र सुनील उपाध्याय, राहुल तोमर और वीर प्रताप तोमर दोपहर 2 बजे से हड़ताल पर बैठ गए। छात्रों का कहना है कि वह पीएटी (PAT) की परीक्षा देने के बाद कॉलेज में प्रवेश पाते हैं, जबकि प्रदेश में संचालित निजी कॉलेज (Private college) के छात्र स्नातक करने के बाद सीधे एमएससी (MSC) करने के लिए कृषि कॉलेज में प्रवेश ले लेते हैं। जिससे वह हमारे अधिकारों पर अतिक्रमण कर लेते हैं। यदि उन्हें एंट्रेंस एग्जाम (Entrance Exam) देकर प्रवेश मिलता है तो फिर इन छात्रों को बिना एग्जाम क्यों प्रवेश दिया जा रहा है। जबकि निजी कॉलेज मानकों के अनुरूप संचालित नहीं होते। जब तक शासन इस पर कोई निर्णय नहीं लेता तब तक वह हड़ताल पर रहेंगे।

प्रदेश सरकार नहीं दे रही ध्यान-

छात्रों का कहना है कि वह 11 जून से शांतिपूर्ण हड़ताल कर रहे हैं। इसके बाद भी उनकी सुनवाई नहीं हो रही है। आज न तो उनसे कोई जनप्रतिनिधि मिलने आया न ही कॉलेज प्रबंधन उनकी बात पर गौर कर रहा है। जबकि प्रदेश में इन्दौर, सीहोर, खंडवा, टीकमगढ़, रीवा, जबलपुर एवं उद्यानिकी महाविद्यालय मंदसौर कॉलेज के छात्र हड़ताल पर हैं, फिर भी शासन का कोई प्रतिनिधि उनसे मिलने नहीं आया है।