Loading...

HOSHNAGABAD में नर्मदा नदी सूखने की कगार पर, लोग पैदल पार कर रहे हैं

हाेशंगाबाद। करोड़ों लोगों की जीवनदायनी नर्मदा नदी का जलस्तर काफी कम हो गया है। यह इतना कम हो गया कि जमीन पर चट्टानें नजर आने लगीं हैं। नदी पार करने के लिए नाव चलाई जातीं थीं, परंतु इन दिनों लोग पैदल ही पार कर रहे हैं। नाव चलाने लायक पानी ही नहीं बचा। 

नर्मदा ब्रिज के पास पानी में पत्थर दिखाई देने लगे हैं। इस बार मई में ही वाष्पीकरण के चलते नर्मदा नदी का जलस्तर 3 फीट तक घट गया है। कहा जा रहा है कि 3 साल से अच्छी बारिश नहीं होने से नर्मदा का जलस्तर कम हो गया है। हालात यह हैं कि खर्रा घाट सहित आसपास के गांवों में नर्मदा को पैदल पार कर सकते हैं। 

नर्मदा का जलस्तर मई में अमूमन 934 फीट रहता था लेकिन इस बार 931.5 फीट ही है। ऐसे में कुछ लोग पैदल ही नर्मदा पार कर लेते हैं। नर्मदा में चढ़ाए जाने वाले पैसे बीनने वाले गंगाराम ने बताया कि बीच में कुछ जगह धारा तेज है, जहां से पैदल नहीं निकला जा सकता।

पानी कम हाेने के ये बड़े 4 कारण-
कम बारिश होना
सहायक नदियां सूखना
अधिक रेत उत्खनन
शहराें-उद्याेगाें के लिए बड़ी मात्रा में पानी लेना।