Loading...    
   


फंदे पर लटकी बेटी को मां ने 30 सेकंड में दरवाजा तोड़कर बचाया | INDORE NEWS

इंदौर। मोहल्ले की शादी में आए कुछ लड़के 12वीं की छात्रा के फोटो खींच रहे थे। मां ने बेटी को डांटा तो वह रूठ गई। मां के साथ घर आई। फिर दोबारा शादी में नहीं गई। मां शादी के लिए निकली, लेकिन शंका हुई तो वह आधे रास्ते से लौट आई। घर पहुंची तो एक कमरे में स्टूल गिरने की आवाज सुनी। दरवाजे से झांका तो बेटी फंदे पर लटकी थी। मां ने 30 सेकंड में दरवाजा तोड़कर उसे बचा लिया। बेटी अभी अस्पताल में है। 

बाणगंगा पुलिस के अनुसार, घटना मंगलवार रात 1.30 बजे रेवती रेंज इलाके की है। छात्रा का नाम पूजा परिहार (Pooja Parihar) है। वह अहिल्याश्रम स्कूल में पढ़ती है। उसका 12वीं का रिजल्ट आने वाला है। बड़े भाई भूपेंद्र परिहार ने बताया कि मोहल्ले में बारात आई हुई थी। वहां हमारा पूरा परिवार मौजूद था। इस दौरान कुछ लड़के पूजा के फोटो खींचने लगे। मां राजू परिहार (Raju Parihar) ने उसे सभी के सामने डांट दिया। रात में मां उसे कपड़े चेंज कराने के लिए घर लाई। जब वापस चलने के लिए कहा तो पूजा ने मना कर दिया। 

मां को विदाई कराना था, इसलिए वह अकेले चल दी। आधे रास्ते में उसे शक हुआ। वह वापस घर लौटी तो दूसरे कमरे का दरवाजा अंदर से लगा था। उसे लगा कि पूजा सो रही होगी, तभी कमरे से स्टूल गिरने की आवाज आई। उसे समझते देर नहीं लगी कि कुछ गड़बड़ है। उसने तुरंत दरवाजे को धक्का दिया। अंदर जाकर देखा तो पूजा फंदे पर लटकी हुई थी। 30 सेकंड में उसे उतारा और मोहल्ले वालों की मदद से अरबिंदो अस्पताल ले गई। वहां से बुधवार दोपहर उसे एमवायएच रैफर कर दिया गया। भाई ने बताया कि पूजा पढ़ने में तेज है। 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here