MAKE MY TRIP सेवा में कमी की दोषी, उपभोक्ता को मुआवजा दिलाया | BUSINESS NEWS

Advertisement

MAKE MY TRIP सेवा में कमी की दोषी, उपभोक्ता को मुआवजा दिलाया | BUSINESS NEWS

इंदौर। Best Deals On Flights & Hotels‎ का दावा करने वाली भारत की सबसे बड़ी ऑनलाइन बुकिंग (ONLINE HOTEL BOOKING) कराने वाली कंपनियों में से एक MAKE MY TRIP को उपभोक्ता फोरम (CONSUMER FORUM) ने सेवा में कमी (DEFICIENCY OF SERVICE) का दोषी मानते हुए उपभोक्ता को मुआवजा दिलाया है। आरोप था कि ग्राहक ने कंपनी को एडवांस पैसे देकर बुकिंग की परंतु कंपनी ने सेवा उपलब्ध नहीं कराई और पैसे वापस करने से भी इंकार कर दिया। 

MAKE MY TRIP ने एडवांस पैसा लिया, बुकिंग नहीं की, पैसा वापस भी नहीं किया

मामला कुछ इस प्रकार है कि इंदौर के पागनीसपागा में रहने वाले वैभगव भागवत सहित 9 लोग अरुणाचल प्रदेश घूमने गए थे। उन्होंने मेक माय ट्रिप के माध्यम से अरुणाचल प्रदेश के बोमडिला जिले में स्थित होटल सिफीयोंग फोंग में 4 कमरे बुक कराए और किराए के रूप में 13 हजार 958 रुपए का भुगतान भी ऑनलाइन कर दिया। जब ये लोग वहां पहुंचे तो पता चला कि वहां कोई रूम बुक नहीं है। वैभव ने बुकिंग कराने वाली कंपनी को ई-मेल कर शिकायत दर्ज कराई, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। इसके बाद वैभव ने उपभोक्ता फोरम में परिवाद दायर किया।

MAKE MY TRIP ने नोटिस के जवाब में भी उपभोक्ता को तंग करने की कोशिश की

उपभोक्ता फोरम ने मामले में कंपनी को नोटिस जारी किए। कंपनी की ओर से कहा गया कि बुकिंग ऑनलाइन की गई थी, जिसमें कोई शर्त या अनुबंध नहीं होता है। वहीं बुकिंग अरुणाचल प्रदेश में थी, इसलिए मामला भी इंदौर के बजाय वहां लगना चाहिए। फोरम ने सभी पक्षों को सुनने के बाद फैसला दिया कि उपभोक्ता को बुकिंग की रकम और अन्य होटल में रुकने का खर्च मिलाकर 48 हजार 456 रुपए लौटाए जाएं। आदेश के बाद दो महीने में पैसा नहीं मिलने पर नौ फीसदी ब्याज भी कंपनी को भुगतना होगा।