FANI CYCLONE: भारत की जल सेना अलर्ट पर, तबाही बचाने की कोशिश

Advertisement

FANI CYCLONE: भारत की जल सेना अलर्ट पर, तबाही बचाने की कोशिश


नई दिल्ली। चक्रवाती तूफान “फानी” ने बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पूर्व और निकटवर्ती दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र में भीषण चक्रवाती तूफान का रूप ले लिया है और यह 29 अप्रैल, 2019 को 17.30 बजे चेन्नई से 770 किलोमीटर दूर पूर्व-दक्षिण-पूर्व में स्थित था। पूर्वी नौसेना कमान (ईएनसी) ने मानवीय सहायता के लिए उच्चस्तरीय तैयारी की है। सर्वाधिक प्रभावी क्षेत्र में मानवीय सहायता, आपदा राहत, लॉजिस्टिक व मेडिकल सहायता, लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने आदि कार्यों के लिए भारतीय नौसेना के जहाज विशाखापत्तनम और चेन्नई में तैनात हैं। 

इन जहाजों पर अतिरिक्त गोताखोरों, डॉक्टरों, रबर-नावों और राहत सामग्री की व्यवस्था की गई है। राहत सामग्री में भोजन, टेंट, कपड़े, दवाएं, कंबल आदि शामिल हैं। नौसेना एयर स्टेशनों पर नौसेना के हवाई जहाज भी तैनात हैं। आईएनएस रजाली तमिलनाडु के अराकोन्नम में तथा आईएनएस डिगा आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में तैनात है जो प्रारंभिक सर्वेक्षण, राहत कार्य, लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने और राहत सामग्रियों को स्थानों पर पहुंचाने आदि कार्य करेंगे।

ईएनसी बंगाल की खाड़ी की गंभीरता से निगरानी कर रहा है। तमिलनाडु और पुद्दुचेरी नौसेना क्षेत्र (एफओटीएनए) के फ्लैग ऑफिसर, आंध्र प्रदेश व ओडिशा के नौसेना ऑफिसर- इन-चार्ज संबंधित राज्य सरकारों से लगातार संपर्क में हैं।