Loading...

मैं कुत्ता नहीं हूं: अमित शाह से नाराज सांसद ने इस्तीफा दिया | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में जीत के लिए प्रत्याशी चयन की प्रक्रिया से गुजर रही भाजपा को कई झटके भी लग रहे हैं। सुषमा स्वराज और उमा भारती जैसी लोकप्रिय महिला नेताओं ने चुनाव ना लड़ने का ऐलान कर दिया है। शिवराज सिंह, रमन सिंह, वसुंधरा राजे जैसे दिग्गज नेता भी लोकसभा चुनाव लड़ने को तैयार नहीं हैं। इन सबके पीछे सिर्फ एक ही नाम आ रहा है और वो है अमित शाह। अब असम में सबसे ताकतवर भाजपा नेता एवं सांसद राम प्रसाद शर्मा ने इस्तीफा दे दिया है। 

बीजेपी से इस्तीफा दे चुके सांसद राम प्रसाद शर्मा ने कहा, 'मैं कुत्ता नहीं हूं कि मेरी जरूरत नहीं है तो मुझे बाहर फेंक दिया जाए। पिछले कई साल मैंने तन-मन और धन से पार्टी की सेवा की है। आरएसएस में भी रहा लेकिन अब अचानक मुझे बाहर फेंक दिया गया। क्या ये धोखा नहीं है ?' शर्मा ने दावा किया कि उन्होंने असम में पार्टी के लिए अपने परिवार की जिंदगी को भी दांव पर दिया। ये मैं था कि जिसने पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 9 सीटें जितवाई थीं। मैंने पंचायत चुनावों में पार्टी को जीत दिलाई। 

आपको बता दें, राम प्रसाद शर्मा अभी तेजपुर सीट से सांसद हैं। अब बीजेपी इस सीट पर हेमंत बिस्व शर्मा को टिकट दे सकती है। इसी को लेकर आरपी शर्मा पार्टी से नाराज हैं। उन्होंने आगे कहा, 'अगर पार्टी मुझसे पूछती तो मैं अपनी सीट का त्याग करने को तैयार थे। बिना मुझे सूचित किए पार्टी ऐसा निर्णय कैसे ले सकती है। कम से कम इलेक्शन पैनल लिस्ट में मेरा नाम आना चाहिए था।'

सांसद राम प्रसाद शर्मा का कहना है कि अब वो दूसरी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा, 'मेरे पास TMC, NPP, कांग्रेस और कई दूसरी पार्टियों से फोन आ रहे हैं। मैं निश्चित रूप से चुनाव लड़ूंगा।' रिपोर्ट की मानें तो आरपी शर्मा कांग्रेस के टिकट पर तेजपुर से चुनाव लड़ सकते हैं।