महिला बाल विकास विभाग आचार संहिता का उल्लंघन करवा रहा है | KHULA KHAT from TIKAMGARH

महिला बाल विकास विभाग टीकमगढ़ के समस्त परियोजना अधिकारियों द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को लगातार विभागीय योजनाओं जैसे प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, पोषण पखवाड़ा, ईसीसीई, उदिता योजना, प्रधानमंत्री कौशल योजना आदि के प्रशिक्षण तथा प्रचार प्रसार हेतु परियोजना मुख्यालय पर बुलाया जा रहा है। इन सब प्रशिक्षणों के दौरान लगातार आचार संहिता का उल्लघंन किया जा रहा है तथा कई प्रकार से धांधली की जा रही है। प्रत्येक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की उपस्थिति एक दिन में सभी प्रशिक्षणों में दिखाई जा रही है तथा उन्हें प्रशिक्षणों में उपस्थित होने पर न ही यात्रा भत्ता दिया जा रहा है न ही खाना नास्ता प्रदाय किया जा रहा है। 

चूंकि महिला बाल विकास भोपाल द्वारा जिले को दिसंबर जनवरी में विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु प्रशिक्षण आयोजन करने हेतु लाखों रुपये का बजट जारी किया गया था परंतु विभाग के अधिकारी कर्मचारी इस बजट को बिना खर्च किये ही गबन करना चाहते थे जिस कारण 10 मार्च 2019 तक किसी भी प्रशिक्षण का आयोजन नही किया गया तथा जैसे ही विभाग के उच्च अधिकारियों ने सभी प्रशिक्षणों के आयोजन का प्रतिवेदन भोपाल भेजने का आदेश दिया तो टीकमगढ़ जिला कार्यक्रम अधिकारी तथा परियोजना अधिकारियों के माध्यम से एक साथ सभी प्रशिक्षणों के आयोजन की खानापूर्ति कर सारा पैसा ठिकाने लगाया जा रहा है। जो प्रशिक्षण 3 से 5 दिन तक चलना था उसे 1 दिन में ही समाप्त कर सिर्फ फ़ोटो वीडियो लेकर खानापूर्ति की जा रही है।

महिला बाल विकास में योजनाओ के प्रचार प्रसार हेतु लाखों का बजट फर्जी बिल लगाकर विभाग के अधिकारियों तथा कर्मचारियों द्वारा ठिकाने लगाया जा रहा है जो भोपाल स्तर पर भी संज्ञान में है फिर भी उच्च अधिकारियों द्वारा सिर्फ इस बात के निर्देश दिए जाते है कि कैसे भी करके 100 प्रतिशत बजट खर्च होना चाहिए चाहे इसमें कोई भी घपला करना पड़े।कई योजनाओं के प्रशिक्षण में प्रति आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को 150 रुपये खाना तथा 100 रुपये अन्य खर्च के देने का प्रावधान है फिर भी कार्यकर्ताओ को न तो खाना दिया जाता है न ही यात्रा खर्चा। विभाग के इस भ्रष्ट रवैये से आये दिन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओ को परेशान होना पड़ रहा है। 

सोचने की बात तो ये है कि जब बजट तीन माह पहले ही दिया जा चुका था तो सारे प्रशिक्षण लगातार एक साथ क्यो कराए जा रहे है तथा आयोजन के समय आदर्श आचार संहिता का भी खयाल नही किया जा रहा है खुलकर केंद्र सरकार की योजनाओं का प्रचार किया जा रहा है। अतः हम समस्त आंगनवाड़ी कार्यकर्ता जिला टीकमगढ़ आपसे निवेदन करते हैं कि इन प्रशिक्षणों के आयोजन की सम्पूर्ण जांच कराकर लाखो रुपये का घपला करने वालो पर कार्यवाही की जाए तथा हम आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओ को शोषण से बचाया जाए। 
निवेदक
समस्त आंगनवाड़ी कार्यकता
जिला टीकमगढ़