Loading...

चुनाव के लिए आया कालाधन पकड़ा लेकिन नेता को नहीं पकड़ा | BHOPAL NEWS

भोपाल। जहांगीराबाद पुलिस ने यहां चुनाव के लिए आए 24 लाख रुपए पकड़े हैं। नोटों से भरे बैग के साथ पुलिस ने राजेश पाल नाम के युवक को पकड़ा है जो झुग्गी में रहता है। आयकर विभाग इनवेस्टिगेशन विंग का कहना है कि राजेश पाल हवाला रैकेट का एक कूरियर मात्र है। पुलिस ने इस मामले में अब तक उन नेताओं की तलाश नहीं की है जिन्होंने यह धन भेजा था और जिसके लिए भेजा गया था। 

जहांगीराबाद पुलिस ने भीम नगर दुर्गा मंदिर के पास की झुग्गी में रहने वाले राजेश पाल को काले बैग के साथ ठंडी सड़क पर पकड़ा था। बैग में 24 लाख रुपए थे। पाल ने बताया कि यह पैसा दवाई विक्रेता सिद्धार्थ सिन्हा का है। जहांगीराबाद थाना प्रभारी निरंजन शर्मा ने बताया कि सिन्हा को भी थाने पर बुलाया तो वह भी पैसे का स्रोत नहीं बता पाए। इसके बाद पुलिस ने आयकर विभाग को मामला सौंप दिया। विभाग ने पाल के बताए स्रोत की गहन पड़ताल की, लेकिन इतने बड़े पैमाने पर नकदी जमा होने का वे भी प्रमाण नहीं दे पाए।

हवाला रैकेट के जरिए आया था कालाधन

आयकर विभाग ने आशंका जताई है कि यह धन किसी हवाला रैकेट के जरिए आया था। पाल को केवल धन एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने के लिए रखा गया था। इसका उपयोग चुनाव के दौरान किया जाना था। विभाग ने कैश जब्त कर लिया है। आचार संहिता लगने के बाद से अब तक विभाग अब तक 36.50 लाख रुपए जब्त कर चुका है।