तुष्मुल झा: प्रभात झा के संस्कार या चंबल की ठसक | GWALIOR MP NEWS

Advertisement

तुष्मुल झा: प्रभात झा के संस्कार या चंबल की ठसक | GWALIOR MP NEWS


भोपाल। बिहार से मध्यप्रदेश में आकर राजनीति कर रहे प्रभात झा (PRABHAT JHA) भाजपा के सांसद भी हैं। वो अक्सर आदर्श और संस्कारों की बात करते हैं। प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए उन्होंने हजारों भाजपा कार्यकर्ताओं को संस्कार सिखाए परंतु शायद अपने बच्चों (TUSHMUL JHA and AYATAN JHA) को नहीं दे पाए। वायरल हुआ ऑडियो और प्रभात झा की चुप्पी काफी कुछ कह रही है। 

2 व्यक्तियों के बीच हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग वायरल हुई है। कहा जा रहा है कि यह बातचीत प्रभात झा के बेटे तुष्मुल झा और भोपाल निवासी मिक्की चांदवानी के बीच हुई है। इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। तुष्मुल झा ने इसे फर्जी बताया है परंतु अब तक किसी भी थाने में मामला दर्ज नहीं कराया गया है। यही कारण है कि तुष्मुल झा संदेह की जद में बने हुए हैं। मिक्की चांदवानी ने भी अब तक तुष्मुल के खिलाफ जान से मारने की धमकी का प्रकरण दर्ज नहीं कराया है और ना ही सुरक्षा की मांग की है। इसलिए मिक्की चांदवानी भी मासूम और पीड़ित नजर नहीं आ रहे। 

रिकॉर्डिंग में क्या है
तुष्मुल : तुष्मुल झा बोल रहा हूं। मेरे छोटे भाई से तुम्हारा क्या हुआ है..तुमने उसे गाली दी।
मिक्की : भैया कुछ भी नहीं। पहले उन्होंने गाली दी। मैं तो उन्हें पेबल-बे में एक प्रॉपर्टी दिखाने ले गया था।
तुष्मुल: तुम उसको गाली दोगे...।
मिक्की : आप बताओ... अयत्न भाई मेरे दोस्त हैं। इतने सालों से उन्हें प्रॉपर्टी दिखाए जा रहा हूं। एक-दूसरे को भाई बोलते हैं..। अगर वो मेरी मां को गाली देंगे तो प्रैक्टिकली खुद सोचो आप। कोई सुनेगा क्या? उन्होंने गाली दी तो रिवर्ट में मैंने भी कहा।
तुष्मुल: बेटा हमारे बारे में नहीं जानते हो... ये बताओ तुमको क्या लगता है.. तुम्हारे साथ क्या होगा?

मिक्की : मैंने कोई गलत बात नहीं की। उन्होंने (अयत्न) धक्का-मुक्की की। रामभाई से पूछ लो। आपने तो अभी थाने में बैठा दिया।
तुष्मुल : अरे बेटा अभी कुछ नहीं हुआ। तुष्मुल झा के बारे में तुम कुछ नहीं जानते। याद रखना वह मेरा छोटा भाई और प्रभात झा जी का बेटा है। तुमको बताऊंगा बेटा। तू बच्चा है।
मिक्की : तो आप क्या करोगे। मेरे पास जान से मारने के मैसेज आ रहे हैं। फोन आ रहे हैं कि मुझे मारने गनमैन निकले हैं। क्या करोगे मेरा भैया।
तुष्मुल : अभी थोड़ी देर रुक.. 15-20 मिनट। तुमको अभी सब समझाएंगे।
मिक्की : आप मुझे धमकी दे रहे हैं।
तुष्मुल : हंसते हुए। मैं किसी को धमकी नहीं देता।

वह मेरी आवाज नहीं
मैं इस नाम के किसी व्यक्ति को नहीं जानता और न ही कभी मुलाकात हुई। आप उस युवक से पूछेंगे तो वह भी यही कहेगा। जहां तक ऑडियो की बात है तो वह मेरी आवाज नहीं है।- तुष्मुल झा, भाजपा नेता व प्रभात झा के पुत्र

ऐसी कोई घटना नहीं हुई
ऐसी कोई घटना नहीं हुआ। हम दोनों तो दोस्त हैं। चार बर्तन होंगे तो आवाज तो आएगी। दोस्तों के बीच भी ऐसा ही होता है। आप मिक्की से पूछ लें, वह भी यही कहेगा।’ - अयत्न झा, तुष्मुल के छोटे भाई